वाराणसी-लाखों का गहना व कैश जीआरपी ने यात्री को लौटाया


वाराणसी 28 दिसम्बर, 2021; राजकीय रेल पुलिस प्रयागराज रामबाग, को प्रयागराज रामबाग रेलवे स्टेशन पर एक लावारिस बैग मिला, जिसमें लगभग रु. पाँच लाख का आभूषण एवं रु0 55,000/- नगद था । इन्होनें अपनी सूझबूझ से संबंधित यात्री को ढूँढ कर, बैग यात्री के सुपुर्द किया ।

मंडल रेल प्रबंधक श्री रामाश्रय पाण्डेय ने उक्त कार्य को संज्ञान में लेकर आज 28 दिसम्बर,2021 को अपने कार्यालय में श्री लल्लन सिंह यादव चौकी प्रभारी (जी.आर.पी.)प्रयागराज रामबाग एवं मु० सुऐब अहमद, पदनाम हेड कान्सटेबल (जी.आर.पी.) की ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठा एवं सराहनीय कार्य के लिये प्रशंसा करते हुए नकद पुरस्कार सहित प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया । इस अवसर पर अपर मंडल रेल प्रबंधक (इन्फ्रा) श्री ज्ञानेश त्रिपाठी एवं मंडलीय अधिकारीयों ने उप निरीक्षक एवं हेड कांस्टेबल की सराहना करते हुए बधाई दी ।

ज्ञातव्य हो कि वाराणसी मंडल के प्रयागराज रामबाग रेलवे पर जी.आर.पी. के उप निरीक्षक श्री लल्लन सिंह यादव एवं हेड कांस्टेबल मोहम्मद शोएब अहमद रात्रिकालीन ड्यूटी पर तैनात होकर स्टेशन के प्लेटफार्म एवं सर्कुलेटिंग एरिया की चेकिंग कर रहे थे । प्लेटफार्म चेकिंग के दौरान एक लावारिस बैग मिला मेटल डिटेक्टर से जाँच करने पर अधिक मात्रा में धातु होने का पता चला । विस्फोटक होने की आशंका से जब बैग की सावधानी से तलाशी ली गई तो बैग के अन्दर पांच अंगुठी कान की बाली कान का कुंडल नाक की कीलें दो हाथ का कड़ा तथा चांदी के विभिन्न आभूषण लगभग पांच लाख कीमत के तथा रु 55,000/- नकदी बरामद हुआ जिसमें रसीद पर अंकित मोबाईल नम्बर से सम्पर्क किया गया तो बैंग मालिक अराधना दूवे पत्नी राजू दूवे निवासी पंडरी थाना रानीपुर जनपद मऊ का पता चला । यह भी पता चला की दूबे परिवार किसी विवाह समारोह में शामिल होने प्रयागराज आया था और भूलवश अपना सामान प्लेटफार्म पर ही भूल गया था । दोनों को जी.आर.पी. चौकी प्रयागराज रामबाग ने बुलाकर सारा सामान सुरक्षित सुपुर्द किया । सामन पाकर दूबे परिवार ने पूर्वोत्तर रेल प्रशासन के प्रति आभार प्रकट किया और जी आर पी पुलिस रामबाग की ईमानदारी एवं सत्यनिष्ठा की यात्रियों द्वारा भी बहुत सराहना की गई ।लल्लन सिंह यादव इसके पुर्व कोतवाली भुडकुडा जनपद गाजीपुर मे अपनी सेवा दे चूके है।

अशोक कुमार
जनसम्पर्क अधिकारी, वाराणसी