गाजीपुर-लापरवाह लेखपालों को फटकार लगाते हुए मंडलायुक्त नें कहा बडी बात

गाजीपुर-खानपुर में शनिवार को थाना दिवस पर मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल व आइजी के सत्यनारायण पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने जमीन के कब्जे की शिकायत सहित कुल करीब 27 शिकायत पत्रों का अवलोकन किया और मौके पर पांच निस्तारण के साथ बाकी मामलों को तहसीलदार सैदपुर नीलम उपाध्याय और क्षेत्राधिकारी सैदपुर बलिराम को निर्देशित किया। कमिश्नर ने अधिकांश मामलों में लेखपालों की घोर लापरवाही मिलने पर उपस्थित लेखपालों को जमकर फटकार लगाई। लंबे समय तक या अधिक संख्या में शिकायतें जिन लेखपालों के पास मिलेंगी उनका वेतन रोकने का आदेश दिया और कहा कि किसी भी अविवादित वरासत को पंद्रह दिन में नाम दर्ज कराने के बाद वरासत खतौनी की एक कॉपी उन्हें निःशुल्क सौप दिया जाय। लेखपालों और कानूनगो की लापरवाही से थाना दिवस और तहसील दिवस पर शिकायतों का अंबार लग जाता है। सभी चकरोड और नाली तत्काल खाली कराए जाय। सभी लेखपाल मजदूर और पुलिस लेकर मौके पर जाएं और कब्जेदारों से खर्चा वसूल कर नाली और चकरोड को हर हाल में खाली करवाएं। इस सरकार में सरकारी जमीन कब्जा करने की हिम्मत कोई नही कर पा रहा है इसलिए सभी ग्राम समाज के जमीनों को तत्काल अवैध कब्जे से खाली कराया जाय।लेखपाल ही जमीन की नापी के लिए लोगों से धारा 24 के तहत पैसा जमा कराते है और अधिकारियों के पास शिकायत भेजवाकर उसे स्टे मानकर मामले को लटकाते है। बिना किसी कोर्ट के स्थगन आदेश के कोई कार्य न रोका जाय।