गाजीपुर-लूटेरे ने ही दर्ज कराई लूट की एफआईआर

0
476

गाजीपुर। बीते दिनों खानपुर थाना क्षेत्र के सिधौना के पास सैल्समैन से हुए दो लाख के लूट का थाना पुलिस और स्वाट टीम ने खुलासा कर दिया। गुरुवार को पुलिस लाइन में आयोजित प्रेसवार्ता में पुलिस अधीक्षक डा. ओमप्रकाश सिंह ने अभियुक्त को मीडिया से मुखातिब कराया। उन्होंने बताया कि सैल्समैन ने अपने एक साथी के साथ मिलकर लूट की कहानी रची थी। गबन का दो लाख बरामद कर लिया गया।

पुलिस कप्तान ने बताया कि बीते 15 सितंबर को दिन में विश्वनाथ यादव फर्म के संचालक एलमुनियम वाराणसी के सेल्समैन अरविंद पटेल ने पुलिस को सूचना दिया था कि सैदपुर से बकाया का दो लाख लेकर लौटते समय सिधौना के पास बाइक सवार बदमाश तमंचा से आतंकित कर पैसा लूटकर फरार हो गए। पुलिस पीड़ित से घटना की जानकारी लेते हुए मामले की छानबीन में जुट गई थी। जांच-पड़ताल में यह बात सामने आई कि वाराणसी के थाना बड़ागांव के सभइपुर निवासी सेल्समैन अरविंद पटेल ने ही वाराणसी के शिवपुर थाना के चमाव गेट निवासी अपने साथी राजेश के साथ मिलकर पैसा गबन करने के लिए लूट की कहानी रची थी। पुलिस ने दोनों को गुरुवार सुबह सिधौना के पास से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों ने अपना जुर्म स्वीकार किया। राजेश के पास से गबन का एक लाख, जबकि अरविंद की निशानदेही पर सिधौना के पास सड़क किनारे झाड़ी में छिपाकर रखा गया एक लाख बरामद किया गया। एसपी ने बताया कि अभियुक्तों का संबंधित धाराओं में चालान कर जेल भेज दिया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में स्वाट टीम प्रभारी श्याम जी यादव, उपनिरीक्षक पन्नेलाल, उपनिरीक्षक नागेंद्र उपाध्याय, हेड कांस्टेबल रामभवन, सर्विलांस सेल हेड कांस्टेबल संजय पटेल, स्वाट टीम कांस्टेबल राणाप्रताप सिंह, आशुतोष सिंह, रामप्रताप सिंह, भाईलाल, कांस्टेबल शमशेर सिंह, विरेंद्र कुमार, अजय यादव, विकास कुमार, दिनेश कुमार यादव शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here