गाजीपुर-विकास भवन में मच गयी अफरातफरी

0
547

गाजीपुर। विकास भवन में स्थित विभिन्न विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों में सोमवार को दिन में उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब अचानक दिन में करीब एक बजे जिला प्रभारी मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला पहुंच गए। उन्होंने बेसिक, समाज कल्याण विभाग, पशुपालन, आरईएस और जिला पंचायत सहित अन्य विभागों का निरीक्षण किया। इस दौरान पशुपालन विभाग में गंदगी देखकर भड़कर गए। कर्मचारियों को जमकर फटकार लगाई। कहा कि स्वच्छता को लेकर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री कहते-कहते थम गए, लेकिन आप लोगों के ऊपर इसका कोई प्रभाव नहीं है। हिदायत दिया कि साफ-सफाई का ध्यान रखा जाए। प्रभारी मंत्री आरईएस विभाग में पहुंचे तो पता चला कि आधा कर्मचारी नरादत थे। जबकि उपस्थिति पंजिका में उनका हस्ताक्षर था। इस पर उनकी त्योरी चढ़ गई। उन्होंने दोबारा कर्मचारियों से हस्ताक्षर कराकर उसका मिलान किया। कई लोगों का हस्ताक्षर भिन्न मिला। इस पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि शार्टकट में हस्ताक्षर न करें। निर्देश दिया कि समय से दफ्तर में आए। कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही न करे। सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं का लाभ हर हाल में पात्रों को मिले। करीब आधा घंटा तक प्रभारी मंत्री रहे। इससे अधिकारियों और कर्मचारियों में अफरा-तफरी मची रही। उनके जाने के बाद उन्होंने राहत की सास ली। प्रभारी मंत्री के साथ जिलाध्यक्ष भानूप्रताप सिंह, अखिलेश सिंह, जितेंद्रनाथ पांडेय, मीडिया प्रभारी शशिकांत आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here