गाजीपुर-विद्युत विभाग के संविदा कर्मियों का त्योहार हुआ फीका


गाजीपुर-खानपुर क्षेत्र के विद्युत उपकेंद्रों पर कार्यरत संविदाकर्मियों का त्योहार फीका ही रहने वाला है। औरों के घर में उजाला कायम रखने वाले लाइनमैनों के घर दिवाली पर दीयों का संकट आ गया है। खानपुर मौधा सौना रामपुर सहित कई उपकेंद्रों पर तैनात संविदाकर्मी कई माह से बिना वेतन के दिनरात काम कर रहे है। रामपुर के लाइनमैन अरविंद मिश्रा बताते है कि हम संविदाकर्मी अपनी जान जोखिम में डालकर बिना किसी अतिरिक्त सुरक्षा अन्य बीमा के लोगों के घरों में उजाला कायम रखते है। भारत इंटरप्राइजेज के तहत कार्य कर रहे करीब चार दर्जन कर्मचारी किसी तरह अपनी जीविका चला रहे है। कोरोनाकाल में भी निर्वाध सेवा देने वाले बिजलीकर्मियों को इस तरह खाली पेट दिनरात सेवा देना पड़ रहा है। मौधा के राकेश विश्वकर्मा, प्रवीण सिंह, अनौनी के राजकुमार, जेपी, सनद कुमार, खानपुर के छोटू, रामावतार और रामपुर के प्रकाश ,गाजीपुर शहर के पीरनगर पावरहाउस पर कार्य करने वाले पप्पू कुमार, गिरधर कुमार, योगेश चौहान, कृपा शंकर तिवारी, राजकुमार प्रसाद, कमलेश कश्यप, मोहम्मद आजाद ,विरेन्द्र कुमार भारतीआदि कहते है कि जल्द ही वेतन भुगतान न किया गया तो फीके दशहरा की तरह हमारे घरों में दिवाली पर दीये भी नही जल पाएंगे।

Also Read:  हे गो माता रक्षक भाईयों, कहाँ हो? गो माता के आवारा पुत्रों से खेतों की रक्षा करो