गाजीपुर-शिक्षा प्रेरकों के मानदेय भूगतान का कोर्ट ने दिया आदेश

गाजीपुर-मरदह स्थित हनुमान मंदिर परिसर में लोकशिक्षा प्रेरक संघ के सदस्यों की एक बैठक सम्पन्न हुआ । बैठक में संघठन के ब्लाक अध्यक्ष मुनीब यादव ने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने प्रेरक संघ मरदह के द्वारा दाखिल याचिका पर तीन से चार साल तक के बकाया समस्त मानदेय का एक मुश्त भुगतान 18 नवम्बर 2021 तक किए जाने का आदेश जारी किया है ।

इस तिथि तक भूगतान नहीं करने पर यह कोर्ट के आदेश की अवमानना होगी और इसके लिए सचिव एवं प्रमुख सचिव उत्तर प्रदेश शासन जिम्मेदार होंगे। अध्यक्ष ने कहा आर्थिक बदहाली झेलते हुए मानदेय के लिए लंबे समय से सघर्षरत प्रेरको एवं संविदाकर्मियों के लिए यह सुखद है । न्यायालय का आदेश हमे न्याय के लिए सघर्ष की प्रेरणा देता है । यह पूरे प्रदेश सहित जिले में कार्यरत 90 प्रेरको के एक साथ मानदेय भुगतान का प्रथम निर्णय है। मरदह ब्लाक के प्रेरक लंबी अवधि तक धैर्य पूर्वक न्याय के लिए सघर्ष करने के लिए बधाई के पात्र है । प्रदेश के विभिन्न जनपदों मे कार्यरत 410 लोकशिक्षा प्रेरको के बकाया मानदेय भुगतान में यह आदेश संजीवनी का कार्य करेगा।इस अवसर पर प्रेरको ने ध्वनि मत से हर्ष व्यक्त किया ।

बैठक में प्रमुख रूप से रामविजय,प्रवीण यादव,सचिदानन्द,दिनेश राम,अजित यादव,रागिनी जयसवाल ,रामकुंवर राम,शैल कुमारी राय, आशा बिन्द, इंद्रकला पाण्डेय ,शुभावती देवी,कुसुम यादव, विजय कुमार श्रीवास्तव ,हृदयनरायन पाण्डेय आदि उपस्थित रहे।