गाजीपुर-सहनाई के बाद मातम

गाजीपुर-बुधवार की रात बहादुरगंज नगर वासियों के लिए मनहूस काली रात साबित हुई। जब नगर के अवधेश गोंड़ के परिवार की गई बारात में शामिल होने गये नगर के युवक भीषण सड़क दुर्घटना के शिकार हो गए। जिसमें दो युवकों की दर्दनाक मौत हो गई और 5 अन्य लोग घायल हो गए। घायलों में व्यस्कों के साथ मासूम बच्चे भी शामिल हैं।घायलों में एक अन्य की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बहादुरगंज नगर पंचायत से एक बारात मऊ जनपद के अमिला क्षेत्र में गई थी। देर रात बारात वापस बहादुरगंज आ रही थी तभी मऊ जनपद के सरवा चट्टी के पास सुनसान सड़क पर तेज रफ्तार मारुति वैगनआर वाहन के ड्राइवर को आई झपकी के कारण सड़क के किनारे एक पेड़ से टकरा गया। टक्कर इतनी भीषण थी कि वाहन के परखच्चे उड़ गए और वाहन में बैठे राहुल वर्मा पुत्र अशोक वर्मा (28) की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी एवं अखिलेश बरनवाल पुत्र रमेश बरनवाल (38 ) को अत्यंत गंभीर हालत में मऊ के एक निजी नर्सिंग होम ले जाया गया जहां उनके इलाज के दौरान मौत हो गई। अखिलेश अपने माँ-बाप का इकलौता चिराग था। जिनकी मौत के बाद परिवार में कोहराम मच गया।घटना की खबर सुनते ही समूचे बहादुरगंज नगर पंचायत में हाहाकार मच गया और सुबह होते होते नगर वासियों का पीड़ित परिवार के घर जमावड़ा लगा रहा। घायलों में आर्यन (12) अर्जुन गोंड़ (26) सत्यम बरनवाल (25) सनी मद्धेशिया (28) यीशु बरनवाल 10 वर्ष हैं, जिन का इलाज विभिन्न निजी एवं सरकारी अस्पतालों में चल रहा है। घायल अर्जुन गौड़ की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे ट्रामा सेंटर वाराणसी रेफर किया गया है जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। इधर बहादुरगंज नगर पंचायत में इस दर्दनाक घटना के बाद अधिकतर व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे हैं और नगर पंचायत में सन्नाटा पसरा हुआ है ।देर रात हुई इस दुर्घटना का सहसा लोगों को यकीन नहीं हो रहा है कि जो 6 घंटे पूर्व हर्षोल्लास के साथ निकली बारात की वापसी में इस प्रकार खबर मिलेगी।