गाजीपुर-सावधान,बसपा में कभी भी कर सकते है उलटफेर

गाजीपुर-बहुजन समाज पार्टी और अन्य राजनैतिक पार्टियों के कार्य प्रणाली में काफी अंतर है। बहुजन समाज पार्टी किसी विधानसभा से अपने संभावित उम्मीदवार को सबसे पहले प्रभारी प्रत्याशी के रूप मे मैदान में उतारती है।इसके बाद पुनः उसके परफॉर्मेंस को देखकर प्रत्याशी बनाने का निर्णय लेती है। समाजवादी पार्टी हो, भारतीय जनता पार्टी हो या कांग्रेस पार्टी हो यह भले चुनाव से कुछ दिन पहले सीधे-सीधे अपने प्रत्याशी का एलान करते हैं और शायद ही किसी मामले में प्रत्याशी को बदलते हैं।लेकिन बहुजन समाज पार्टी अपने प्रभारी प्रत्याशी के व्यवहार /पर्फारमेंस को देखने के लिए समीक्षा बैठक के बाद प्रभारी प्रत्याशी को प्रत्याशी बनाते है।तमाम प्रभारी प्रत्याशियों को बसपा को बदलते देखा है। वर्तमान समय में बहुजन समाज पार्टी जनपद की विभिन्न विधानसभाओं से प्रभारी प्रत्याशियों की घोषणा कर रही है और इनके क्रियाकलापों की समीक्षा करने के बाद ही अंत में प्रत्याशी घोषित करेगी।

Also Read:  गाजीपुर-भीड़ से बचकर मनायें छठी पर्व-प्रवक्ता डायट सैदपुर

तीनो कर सकते बसपा मे उलटफेर– बहुजन समाज पार्टी मे अभी भी तीन ऐसे संभावित उम्मीदवार हैं जो जमानिया ,जंगीपुर और सदर विधानसभा के प्रभारी प्रत्याशियों की खटिया खड़ी कर सकते हैं । ए तीनों महारथी हैं जमानिया विधानसभा से वर्ष 2007 में बसपा के सिंबल पर विधायक बने डॉ राजकुमार गौतम, पूर्व विधायक सदर वर्ष 2002 मे उमाशंकर कुशवाहा तथा पूर्व जंगीपुर विधानसभा से प्रत्याशी इंजीनियर मनीष पांडे।ए तीनों महारथी कब कहां उलटफेर कर देंगे यह कोई नहीं जानता है, लेकिन बहुजन समाज पार्टी में प्रभारी प्रत्याशियों का बदला जाना एक आम बात है।

Also Read:  गाजीपुर-कोटेदारों का लाईसेंस निरस्त किया जाय-गुलाब सिंह