गाजीपुर-हत्याकांड का पर्दाफाश

गाजीपुर। बिरनो थाना पुलिस ने हत्या की घटना का सफल अनावरण करते हुए हत्यारे को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।उल्लेखनीय है कि गत 23 अक्टूबर को थाने पर पंजीकृत मु0अ0स0 156/2020 धारा 302/201 भादवि, बनाम अज्ञात पंजीकृत कराया गया था। हत्या की घटना के अनावरण में लगी पुलिस ने अभियुक्त उमेश राजभर पुत्र सीताराम राजभर निवासी ग्राम सिंगेरा थाना मरदह जनपद गाजीपुर को करीब 5.45 बजे कहोतरी चट्टी पर गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में अभियुक्त ने बताया कि साहब में नशे का आदी हूँ। गांजा हिरोइन जो भी मिल जाता है, वहीं पी लेता हूँ, इसके बिना में रह नहीं पाता हूँ। दिनांक 23 अक्टूबर 2020 को मैने सामू (शशिकान्त) को शहर जाते हुए देखा था। मैं भी पीछे पीछे चल दिया हम दोनो लोग शहर में मिले और वहां से माल लेने चल दिये। वहाँ पर हम लोग काफी देर बैठे रहे लेकिन माल नहीं मिला। वहाँ पर एक लड़का पहले से बैठा था, उससे दो पुड़िया लेकर पैदल ही चल दिये। जब हम लोग पलिया आये तो हम लोग थक गये थे। तभी सामू ने कहा मैं थक गया हैँ मेरे पास हिरोइन की पुड़िया है। स्कूल के पीछे चल के पी लेते हैं। तो हम दोनों लोग स्कूल के पीछे गये। वहां सामू अपना हिरोइन का पुड़िया निकालकर पीने लगे। मैने कहा कि मुझ भी एक कश दे दो तो वह मुझे माँ की गाली दिये, जिससे मुझे गुस्सा आ गया। मैंने वहीं पर रखे ईंट से सामू को सिर व मुंह में मारकर,उसे वहीं बगल में धान के खेत में फेक कर भाग गया था।
पुलिस ने उसकी निशानदेही पर आलाकत्ल रक्त लगा हुआ (ईट) बरामद कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्त के विरूद्ध यथोचित कारर्वाई करते हुए पुलिस ने जेल भेंज दिया। गिरफ्तारी करने वाले पलिस टीम में थानाध्यक्ष बिरनो शशी चन्द चौधरी, उपनिरीक्षक चन्दशकर मिश्र,आरक्षीगण रियाज अहमद, संजीत गोड़ तथा धनेश कुमार शामिल रहे।

Also Read:  गाजीपुर- तिलकोत्सव से वापस आ रहे युवकों की बाइक पल्टी और . . .गाजीपुर टुडे