गाजीपुर-हाइवे के सुन्दरता को बिगड़ रहे होर्डिंग

गाजीपुर- सरकार और प्रशासन सड़कों की सुंदरता बनाए रखने के लिए जगह-जगह लगने वाले होर्डिंग्स एवं बोर्डों पर नकेल कसने के लिए सख्त कानून बनाने के दावे कर रही है। लेकिन यह दावे वाराणसी गाजीपुर राष्ट्रीय राज्यमार्ग संख्या 31 पर खोखले साबित हो रहे हैं। हाइवे पर जगह-जगह नियमों की अनदेखी कर अवैध तौर पर सियासी पार्टियों के बोर्ड व होर्डिंग लगे हुए हैं। जबकि हाईकोर्ट ने नेशनल हाईवे पर बोर्ड एवं होर्डिंग्स लगाने पर पाबंदी लगाई हुई है, लेकिन इसका यहां पालन नहीं हो रहा है। वाहन चालकों ने रोष प्रकट करते हुए कहा है कि अगर कोई आम व्यक्ति कहीं भी बोर्ड लगाता है तो पुलिस व प्रशासन बोर्ड उतारने के अलावा उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करता है। वहीं नेताओं पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। राजनीतिक पार्टियों की ओर से आए दिन बदल-बदल कर हाइवे के बिजली पोल और संकेतकों पर झंडा बैनर और प्रचार बोर्ड व होर्डिंग लगाए जा रहे हैं। जब भी किसी राजनीतिक पार्टी के नेता का आगमन रैली या सभा होता है तब इन स्ट्रीट लाइट के पोल पर झंडा और बैनर बांधकर हाइवे को बदरंग कर दिया जाता है। राजनीतिक पार्टियों की देखादेखी स्कूलों, कंपनी, दुकानों के फ्लैक्स प्रचार बोर्ड भी इन सड़कों के साइन बोर्ड और इलेक्ट्रिक पोल सहित निर्देशिका बोर्ड की सुंदरता को बिगाड़ने का काम करते है। हाईवे पर लगे अवैध यूनिपोल और होर्डिंग्स ड्राइवरों का ध्यान ही नहीं भटकाते बल्कि सड़कों की सुंदरता को भी बिगाड़ रहे हैं। हाईवे के दोनों ओर अवैध होर्डिंग्स की भरमार है फिर भी इन्हें हटाया नहीं जाना सवाल खड़े कर रहा है।