गाजीपुर-

गाजीपुर : अपने समय के कद्दावर विधायक जिनका जलवा इस कदर कायम था कि अपने प्रतिनिधि के लिए सदर कोतवाली में पहुंचकर एसआई को मारने के लिए हाथ उठा दिया, लेकिन कोतवाल के काफी मान-मन्नवल के बाद कद्दावर विधायक ने अपने हाथ को रोका और सदर कोतवाली से वापस आ गए। कद्दावर विधायक जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को छोड़कर किसी भी अधिकारी से मिलने उनके आवास या कार्यालय में मिलने कभी नही गए । उन्होनेअपने कार्यालय /आवास पर डीएम और एसपी को छोड़कर जनपद के समस्त अधिकारियों को विधान सभा और विधान सभा के लोगो की समस्यायों के समाधान हेतु अपने आवास पर बुलाया और उनके त्वरित निस्तारण हेतु निवेदन करते हुए निर्देशित किया । आज भी सदर विधानसभा की जनता उनके द्वारा किए गए द्वाराचार को याद करके जब किसी अन्य विधायक से तुलना करती है, तो उस कद्दावर विधायक के सामने लगभग सभी पूर्व व वर्तमान विधायक बौने साबित होते हैं। आज विधायक के लगभग सभी करीबी भाजपाई हो चुके हैं ,ऐसी परिस्थिति में विधायक जी की नैया इस विधानसभा के चुनाव में कैसे पार होगी ,यह सोचने का विषय है ? जंगीपुर बाजार के पड़ोस में स्थित अलावलपुर ग्राम सभा के प्रधान एवं छात्र नेता अशोक सिंह झब्बल वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी से जुड़े हुए है ,इसी तरह से विकासखंड करंडा के सिकंदरपुर निवासी कैलाश सिंह गौतम विधायक के करीबी एवम रिश्तेदार हुआ करते थे ,वे भारतीय जनता पार्टी के संगठन से जुड़ गए हैं ।इसी तरह कुचौरा निवासी से निवासी बाबू गजेंद्र सिंह भारतीय जनता पार्टी के संगठन से जुड़ गए हैं।सौरम के ग्राम प्रधाम मनोज जयसवाल भी आज की तारिख में भारतीय जनता पार्टी के एमएलसी विशाल सिंह चंचल से जुड़ गए हैं ।दीनापुर निवासी अरविंद सिंह भी एमएलसी विशाल सिंह चंचल से जुड़े हुए हैं , अलीपुर बनगवां निवासी रविकांत सिंह चंचल से जुड़े हुए हैं ।बनगवां का पड़ोसी गाँव सिसौड़ा के दोनों मनोज सिंह आज भाजपाई है ।कद्दावर विधायक के सबसे करीबी भगीरथपुर निवासी विनोद शर्मा भाजपा के सर्वाधिक महत्वपूर्ण चुनाव प्रोकोष्ट के प्रभारी हैं । इसी तरह से तमाम नाम है जो कभी कद्दावर विधायक से जुड़े थे आज भारतीय जनता पार्टी से जुड़ चुके हैं। ऐसी परिस्थिति में विधायक जी विधानसभा की चुनावी बैतरणी को कैसे पार करेंगे ये सोचने का विषय है। बहुजन समाज पार्टी के सभी कार्यकर्ता और मतदाता विधायक जी के चुनाव लड़ने की आस लगाए बैठे है, विधायक जी का सदर विधानसभा मे बेचैनी और बेकरारी से आने का इंतजार कर रहा रहे है।

Also Read:  गाजीपुर-बाल विकास एवं पुष्टाहार कार्यालय का ताला तोड कर चोरी