दोनों में कौन घरवाली और कौन बाहर वाली

483

गाजीपुर -तुलसी सागर चुंगी मोहल्ला निवासी रितेश श्रीवास्तव को उनके पिता की जगह पर मृतक आश्रित कोटे में सिंचाई विभाग में चतुर्थ श्रेणी की नौकरी मिली हुई है ।रितेश ने अपनी मां को बिना बताए ही मिर्जापुर जिले की प्रियंका श्रीवास्तव से विवाह कर लिया। विवाह के कुछ दिन बाद तक सब कुछ ठीक-ठाक रहा लेकिन कुछ दिन बाद दोनों में आए दिन विवाद होने लगा । रितेश और प्रियंका की एक 3 वर्ष की बेटी भी है । कुछ महीने पहले रितेश का प्रियंका से इतना अधिक मतभेद हो गया की प्रियंका अपनी पुत्री के साथ मायके में रहने लगी ।इधर उसे पता चला कि उसका पति रविवार को प्रकाश नगर कॉलोनी में किराए के मकान में एक अन्य महिला को पत्नी के रूप मे लेकर धार्मिक अनुष्ठान कर रहा है।इस सूचना के बाद प्रियंका रानी लक्ष्मी बाई आशा ज्योति केंद्र में पहुंची और वहां अपनी शिकायत दर्ज कराई ।आशा ज्योति केंद्र की सदस्य गायत्री मणि त्रिपाठी व दीपशिखा, प्रियंका को लेकर गाजीपुर कोतवाली पहुंची और वहां से पुलिसकर्मियों को साथ ले प्रकाश नगर कॉलोनी में जा धमकी।वहां रितेश अपनी दूसरी पत्नी अंजली श्रीवास्तव के साथ धार्मिक अनुष्ठान करते हुए मिल गया ।दूसरी पत्नी अंजलि की मां ने बताया रितेश की उसके के पुत्री के साथ जुलाई 2018 में कोर्ट मैरिज हुआ है। पुलिस ने मामला पेचीदा देख तीनों कोतवाली ले आई ।देर शाम तक पुलिस ने दोनों महिलाओं को यह कहते हुए छोड़ दिया कि सुबह एक बार फिर कोतवाली आना होगा और रितेश को पुलिस ने कोतवाली में रोक लिया।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries