दोहरे हत्याकांड का हत्यारा , घर का ही निकला

गाजीपुर- 15 -16 फरवरी की रात को छावनी लाइन के मंगल मडई में हुए पिता पिता-पुत्र की हत्या का खुलासा आज पुलिस अधीक्षक ने पत्रकार वार्ता में किया । पत्रकार वार्ता में पुलिस अधीक्षक ने बताया कि, रामजन्म कुशवाहा पुत्र रूपा कुशवाहा तथा रामकरण कुशवाहा पुत्र राम जन्म कुशवाहा की हत्या किसी गैर ने नहीं बल्कि रामकरण के सगे भतीजा देवचंद कुशवाहा पुत्र परशुराम कुशवाहा ने किया था । जमीन जायदाद को लेकर देवचंद कुशवाहा अपने दादा से काफी नाराज रहता था । इसी बीच देवचंद कुशवाहा की पुत्री की तबीयत खराब हुई ।दादा राम जन्म कुशवाहा से पुत्री के इलाज के लिए पैसा मांगा , दादा ने पैसा देने से इंकार कर दिया । इस से आक्रोशित देवचंद कुशवाहा ने लंका से कुल्हाड़ी खरीदा। रात्रि मे आटा चक्की के पिछवाड़े से घुस गया । कुल्हाड़ी से पहलावार चाचा रामकन पर किया, आवाज सुनते ही दादा जाग कर उठ बैठे , दादा को जगा देख कर उसने दादा पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया । इसके बाद ताबड़तोड़ चाचा और दादा पर कुल्हाड़ी से वार करता रहा ,जब तक कि दोनों की मौत नहीं हो गई । हत्या के बाद हत्यारे ने अपने पहने हुए कपड़े को बैग मे छुपाकर नाले में फेंक दिया तथा कुल्हाड़ी को कुएं में डाल दिया । मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली की मंगलमंडई के दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाला , गाजीपुर रेलवे स्टेशन से ट्रेन पकड़ कर फरार होने की तैयारी मे है। पुलिस ने देवचन्द को रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर हत्या का खुलासा किया।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store