पुलिस दबिश के दौरान जहर खाने वाली मां-बेटी की थम गई सांसे, अब तक 3 की मौत

बागपत. उत्तर प्रदेश के बागपत (Baghpat) जिले के छपरौली क्षेत्र में पुलिस की दबिश के दौरान जहर खाने वाली आरोपी की मां और छोटी बहन की गुरुवार को मौत हो गई. इससे पहले बड़ी बहन की उपचार के दौरान बुधवार को मौत हो गई थी. इस मामले में पुलिस उपनिरीक्षक समेत छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया थी.

पुलिस अधीक्षक नीरज जादौन ने बताया कि छपरौली थाना क्षेत्र के बाछोड़ गांव में पुलिस की दबिश के दौरान जहर खाने वाली अनुराधा और छोटी बहन प्रीति (17) की इलाज के मौत हो गई. इससे पहले युवती स्वाति (19) की मेरठ के अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी.

जादौन ने बताया कि मृतका के परिजनों ने घटना के कथित आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग करते हुए तहरीर दी थी, जिसके बाद पुलिस ने छपरौली थाने के उप निरीक्षक नरेश पाल, कथित रूप से लापता युवती के दो भाइयों सहित छह के खिलाफ उत्पीड़न और उत्पीड़न के कारण आत्महत्या करने का मामला दर्ज किया.

उन्होंने बताया कि मामले की जांच अपराध शाखा को सौंपी गई है. एसपी के अनुसार पीड़ित पक्ष का आरोप है कि कथित तौर पर लापता लड़की के भाइयों ने इनके नाम तहरीर में दिए गए हैं उनके घर आकर धमकी दी थी कि ‘‘अगर हमारी बहन नहीं मिली तो हम तुम्हारी बेटियों के साथ बलात्कार करेंगे.’’ उन्होंने बताया कि मेरठ के अस्पताल में भर्ती युवती की मां अनुराधा और छोटी बहन प्रीति की हालत अभी चिंताजनक बनी हुई थी, जहां इलाज के दौरान उसकी आज मौत हो गई.

Source- news18