प्रयागराज-बाहुबली अतीक और भाई असरफ की गोली मारकर हत्या

894

प्रयागराज- पुलिस कस्टडी में स्वास्थ्य जांच के लिए शनिवार देर रात काल्विन अस्पताल ले जाते समय माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की मेडिकल कॉलेज के पास मिडिया कर्मीक्षकरनी बनकर आए तीन बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। घटना की सूचना पर पुलिस के साथ-साथ प्रशासनिक अमले में भी हड़कंप मच गया।समाचार लिखे जाने तक मौके पर भारी फोर्स के साथ साथ पुलिस के वरिष्ट अधिकारी पहुंचे हुए हैं।गोलीबारी की इस घटना में एक सिपाही भी घायल हुआ है। उमेश पाल हत्याकांड में माफिया अतीक और उसके भाई अशरफ 4 दिन की पुलिस कस्टडी में थे। शनिवार को तीसरे दिन धूमनगंज थाने के लॉकअप में अतीक व अशरफ से एटीएस ने हथियारों की तस्करी की के बाबत पूछताछ की थी। रात लगभग 10:30 बजे जब दोनों को रूटीन मेडिकल चेकअप के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा था तभी मीडिया कर्मी बनकर तीन बदमाश बाइक से आए और ताबड़तोड़ फायरिंग करनी शुरू कर दी। इस दौरान साथ में रहे पुलिसकर्मी मौके से भाग खड़े हुए।गोली लगने से अतीक व अशरफ लहुलूहान होकर जमीन पर गिर पड़े। एक सिपाही भी घायल हो गया, बाद में दोनों को आनन-फानन स्वरूपरानी मेडिकल अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उन दोनों को मृत घोषित कर दिया।पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।मौके से तीन पिस्टल व कई खोखे मिले हैं। घटना की सूचना पर सभी थानों की पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। गौरतलब है कि उमेश पाल अपहरण कांड में एमपी एमएलए की अदालत ने अतीक को उम्र कैद की सजा सुनाई है।अतीक अहमद पर वर्तमान मे 100 से अधिक मुकदमे चल रहे थे।बताया जा रहा है तीनों बदमाशों ने हत्याकांड को अंजाम देने के बाद धार्मिक नारे भी लगाए और पिस्टल फेंक कर सरेंडर कर दिया। घायल सिपाही धूमनगंज थाने में तैनात मानसिंह है उसके हाथ में भी छर्रे लगे हैं।साभार-अमर उजाला

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries