प्रशिक्षु लेखपालों के नौकरी पर खतरा

गाजीपुर- अपनी मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे लेखपालों पर शासन की सख्ती बढ़ती जा रही है। शुक्रवार को सैदपुर व सेवराई में आठ लेखपालों को निलंबित कर दिया गया। अभी गुरुवार को सदर में चार, जखनियां में दो और जमानियां में एक लेखपाल का निलंबन हुआ था। वहीं अन्य तहसीलों में भी उनके निलंबन की तैयारी चल रही है। बावजूद इसके लेखपाल अपने रुख पर आमादा हैं। उन्हें अमीन संघ ने भी समर्थन दिया है। आंगनबाडी कर्मचारी एवं सहायिका एसोसिएशन के जिलासंरक्षक सूरज प्रताप सिंह ने भी अपने संगठन का समर्थन पत्र लेखपाल संघ को सौपा ।

Also Read:  गाजीपुर-सिद्धार्थ राय ने दिया धन्यवाद

सबसे खतरनाक स्थिति नये प्रशिक्षु लेखपालों की है। अभी ये सभी प्रशिक्षण के कार्यकाल में है। अगर शासन ने कोई कडा फैसला ले लिया तो ए प्रशिक्षु लेखपाल कहीं के नहीं रहेंगे। पुराने और स्थाई लेखपालों का तो कुछ नहीं बिगडने वाला है लेकिन प्रशिक्षु लेखपाल तो अपनी नौकरी बचाने के लिए हाईकोर्ट भी नहीं जा पायेंगे।

Also Read:  गाजीपुर-जनपद के नये हाँटस्पाट ग्राम/वार्ड