बलिया-पुलिस की लापरवाही से गयी हिरामन की जान

बलिया- नगरा थाना क्षेत्र के बछईपुर में शनिवार की सुबह हीरामन यादव आयु 45 वर्ष की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जानकारी के अनुसार बाइक सवार बदमाशों ने हिरामन पर घर के करीब हमला किया। हिरामन को अत्यंत करीब से गोली मारी गई जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हत्याकांड के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने नगरा -गड़वारा मार्ग पर चक्का जाम कर दिया। घटना की सूचना मिलने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए और पुलिस इलाके की नाकेबंदी कर हमलावरों की तलाश करती रही। मौके पर पहुंचे क्षेत्रीय विधायक उमाशंकर सिंह के प्रयास से जाम समाप्त हुआ। मौके पर पहुंचे पुलिस कप्तान देवेंद्र नाथ में कड़ी कार्यवाही का लोगों को भरोसा दिलाया है।सरयां बगडौरा निवासी हिरामन यादव आयु 45 वर्ष प्रतिदिन की तरह सड़क पर टहलने निकले थे। सुलतानपुर मोड़ पर उनकी गिट्टी बालू की दुकान भी है।अभी वह सलेमपुर की तरफ बढ़ ही रहे थे कि अपाचे बाइक सवार तीन बदमाशों ने उनके कनपटी व सीने में गोली दी।गोली मारकर बदमाश गड़वार की तरफ भाग निकले।शोरगुल सुनकर लोग एकत्र हुए तथा पुलिस को सूचना दी। नगरा थाना प्रभारी यादवेंद्र पांडे मौके पर पहुंचे लेकिन परिजनों ने शव पुलिस को कब्जे में लेने से मना कर दिया। देखते ही देखते आक्रोशित लोगों का हुजूम बढ़ता ही गया। हत्याकांड की जानकारी होते ही क्षेत्रीय विधायक उमाशंकर सिंह ने घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस कप्तान संग बात कर हमलावरों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने का जब परिजनों व ग्रामीणों को भरोसा दिलाया तब जाकर लोगों ने जाम समाप्त किया। गुस्साई भीड़ नगरा पुलिस पर तरह-तरह के आरोप लगा रही थी।मौके पर कप्तान देवेंद्र नाथ, एडिशनल एसपी संजय कुमार, सीओ के पी सिंह, अरुण सिंह ,गड़वार स्पेक्टर राजीव सिंह, अन्य कई थाना प्रभारी भारी मात्रा में पुलिस फोर्स के मौजूद थे। उपस्थित लोगों के अनुसार पट्टीदारों से मृतक का विवाद चल रहा था जिसमें 2 बार मारपीट हो चुकी है तथा भी मुकदमा दर्ज है। एक हफ्ते पहले ही मृतक हीरामन ने नगरा थाना प्रभारी को तहरीर देकर अपनी जान माल का खतरा बताया था।