बलिया-रहस्यमय परिस्थितियों में महिला की मौत

बलिया- चितबड़ागांव नगर क्षेत्र के वार्ड नंबर तीन अंबेडकर नगर निवासी एक महिला तीन दिन पहले आधी रात के बाद अचानक घर से लापता हो गई थी। उसका चप्पल व कपड़ा टोंस नदी के किनारे मिला था। तीन दिनों से पुलिस एवं परिजन उसकी तलाश में जुटे थे। बुधवार को दोपहर बाद टोंस नदी में महिला का शव उतराया दिखाई दिया। पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर अंत्य परीक्षण के लिए भेज दिया।

घर वालों की मानें तो महिला तीन दिन पहले आधी रात के बाद घर से निकल गई थी। उसने आत्महत्या की है। वह स्नान करते समय डूब गई या उसे किसी ने नदी में डूबा दिया यह रहस्य नहीं पता चल सका है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।बीते रविवार की सुबह कस्बा के वार्ड नंबर तीन अंबेडकर नगर निवासी शोभा देवी (50) पत्नी रमेश गुप्ता घर से टहलने के लिए निकली थी। परिवार वालों का कहना है कि शाम तक जब वह घर वापस नहीं लौटी तो परिजन तलाश करते समय टोंस नदी के किनारे उनका चप्पल एवं कपड़ा मिला था। इससे उनके डूबने की आशंका जताई जा रही है।

Also Read:  गाजीपुर-हादसा या आत्महत्या ?

थाना प्रभारी निहार नंदन कुमार ने 16 नवंबर मंगलवार को गोताखोरों को बुलाकर नदी में काफी देर तक खोजबीन कराया था। लेकिन शव का कहीं अता-पता नहीं चला। अंततः गोताखोरों को बैरंग ही लौटना पड़ा।

इस बीच आशीष गुप्ता (25) जो पेशे से अध्यापक हैं, उन्होंने मां को तेजी से ढूंढना आरंभ कर दिया। प्रतिदिन टोंस नदी के किनारे अपनी मां को दूर-दूर तक ढूंढते थे। 17 नवंबर बुधवार को आशीष गुप्ता को रामपुर चिट गांव के सामने टोंस नदी के किनारे तलाश करते समय दोपहर बाद डेढ़ बजे नदी में एक शव उतराया दिखाई दिया। जिसकी शिनाख्त कर तत्काल पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने रामपुर चीट गांव के सामने उक्त लाश को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल बलिया भेज

Also Read:  गाजीपुर-केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एशोसिएशन की नेक पहल