मऊ-गजबै शातिर जालसाज

मऊ- एटीएम कार्ड बदलकर सीधे-साधे लोगों के साथ ठगी करने और उनके खाते से पैसा निकालने वाले गिरोह के अंतर्जनपदीय तीन शातिर बदमाशों को पुलिस ने कस्बे के चौहान चौक से गिरफ्तार किया। पुलिस ने बदमाशों के पास से 16 एटीएम कार्ड, दो कट्टा तथा एक बिना नम्बर प्लेट की अपाची बाइक बरामद किया। पुलिस ने तीनों के खिलाफ आर्म्स एक्ट व धोखाधड़ी में मुकदमा दर्ज किया।

दोहरीघाट थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह को मुखबिर से सूचना मिली कि लोगों के एटीएम कार्ड को बदलकर पैसा निकालने वाले गिरोह के तीन सदस्य दोहरीघाट की तरफ जा रहे हैं। सूचना मिलते ही पुलिस सक्रिय हो गई और चौहान चौक के पास वाहनों की चेकिंग करने लगी। कुछ देर बाद एक अपाची बाइक पर सवार तीन लोग आते हुए दिखाई दिए। जिन्हें पुलिस के जवान रुकने का इशारा किया, लेकिन शातिर बदमाश रुकने के बजाए बाइक मोड़ कर बाईपास रोड की तरफ भागने लगे, लेकिन पुलिस के जवानों ने घेराबंदी कर तीनों को पकड़ लिया। जमा तलाशी ली गई तो उनके पास से 10 एटीएम कार्ड यूनियन बैंक, 3 एटीएम कार्ड स्टेट बैंक आफ इंडिया,1 इलाहाबाद बैंक,1 एक्सिस बैंक व 1 पंजाब नेशनल बैंक का एटीएम कार्ड मिला। वहीं उनके पास से 315 बोर का दो कट्टा तथा 2 जिंदा कारतूस 315 बोर का प्राप्त हुआ। साथ ही बिना नम्बर प्लेट की अपाची बाइक के बारे में कुछ नहीं बता पाए। जिसके बाद पुलिस ने तीनों को पकड़कर थाने लाई। पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्तों ने अपना नाम प्रद्युम्न यादव पुत्र रमाशंकर यादव निवासी जमुआरी थाना घोसी, संदीप कुमार पुत्र राजाराम हरिजन निवासी खिजिरपुर थाना घोसी तथा प्रदीप कुमार हरिजन पुत्र रामप्यारे निवासी जिगिना थाना घोसी बताया। पूछताछ में तीनों अभियुक्तों ने बताया कि हम लोगों का एक गैंग है जो जनपद आजमगढ़, बलिया, मऊ एव गाजीपुर में घूमकर एटीएम में जाकर लोगों के नया एटीएम पिन कोड बनाने में मदद करते समय अपने पास रखे कार्ड से बदल देते थे। फिर उस कार्ड से पैसे निकाल कर अपना और परिवार का भरण पोषण चलाते हैं। वहीं तीनों ने बताया कि तीन जनवरी को आखेंपुर थाना जीयनपुर जनपद आजमगढ़ से एक व्यक्ति का एटीएम कार्ड बदलकर 48000 हजार निकाल कर दो मोबाइल लिए थे, जो हम लोगों के पास है तथा 66000 हजार कैश सहित कुल 114000 निकाले थे। जिसके सम्बंध में थाना जीयनपुर में मुकदमा पंजीकृत है। वहीं 21 दिसम्बर को कस्बा दोहरीघाट के यूनियन बैंक के एटीएम में एक बुजुर्ग का एटीएम बदलकर तीन बार मे 25000 निकाले थे। जिसके सम्बंध में दोहरीघाट थाने में मुकदमा पंजीकृत है। 28 दिसम्बर को कस्बा दोहरीघाट के यूनियन बैंक के एटीएम में एक लड़के का एटीएम बदलकर 5000 निकाले थे, जिसके सम्बंध में थाना दोहरीघाट में मुकदमा पंजीकृत है। थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने बताया कि क्षेत्र में अपराधियों के विरुद्ध युद्ध स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। गिरफ्तार करने वाली टीम में थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह, स्वाट टीम प्रभारी सच्चिदानंद यादव, स्वाट टीम विकास यादव, स्वाट टीम अजय कुमार यादव, स्वाट टीम राजू सिंह, स्वाट टीम लायक हुसैन, स्वाट टीम अजित यादव, स्वाट टीम चालक शत्रुघ्न यादव, आरक्षी अभिषेक यादव, शैलेन्द्र, सत्यबीर प्रजापति, काशीनाथ पांडेय शामिल रहे।