मऊ-पहले प्रेमिका को फिर अपने को गोली मार शहीद हुआ आशिक

मऊ। इश्क कब, कहां, कैसे और किससे हो जाए ये कहा नहीं जा सकता ? कभी-कभी इश्क जानलेवा हो जाता है। वह चाहे चेहरा देखकर हो या तस्वीर देखकर। जनपद मऊ के कोतवाली मोहम्मदाबाद गोहना के देवसीपुर गांव में शुक्रवार की देर शाम मोहब्बत-ए-जुनून का परिणाम कुछ ऐसा ही हुआ। सिरफिरे प्रेमी ने युवती (प्रेमिका) को मौत के घाट उतारने के बाद खुद को गोली मार ली। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।

वाकया उस समय हुआ जब युवती अपनी मां के साथ घर के पास ट्यूबवेल पर बल्व ठीक करने गई थी। गोली लगते ही वहां अफरा-तफरी मच गई। घटना के तत्काल बाद एसपी मौके पर पहुंचे और घटना का जायजा लिया। पूरे मामले की छानबीन की जा रही हे।
कुछ चेहरे ऐसे होते हैं, जो देखते ही दिल में उतर जाते हैं। एक सिरफिरे आशिक के साथ भी ऐसा ही हुआ। चर्चा है कि वह गांव की ही एक युवती को दिल दे बैठा। दोनों करीब आए और प्यार के बीज अंकुरित हुए। इस बीच दोनों मिलते-जुलते रहे। बात बढ़ती गई। लेकिन हैरानी की बात ये थी कि युवती उसे नापसंद करने लगी और रिश्ता तोड़ना चाह रही थी। इस बीच खौफनाक मंजर सामने आया…?

Also Read:  गाजीपुर-मा०साहब का सदैव ऋणी रहेगा समाज-विनय सागर

मामला देवसीपुर गांव का है। गांव की रहने वाली बंदना राजभर (21) अपनी मां के साथ शाम साढ़े सात बजे घर के समीप स्थित ट्यूब्वेल पर खराब बल्व को ठीक करने गई थी। इसी दौरान पड़ोस का ही सुधाकर उर्फ मोनू राजभर (24) अचानक मौके पर पहुंचा। उसने युवती से प्यार का इजहार किया। फिर कहासुनी हुई और देखते ही देखते प्रेमी युवक ने प्रेमिका को गोली मार दी। जिसमें उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद युवक ने खुद को भी गोली मारकर आत्महत्या कर लिया। युवती के मां ने बताया कि घटना को युवक ने अंजाम दिया। आते ही उसने अपशब्दों का प्रयोग करते हुए मेरी बेटी को गोली मार दी। जिससे उसकी बेटी की मौत हो गई। उधर घटना की जानकारी हेाते ही मौके पर एसपी घुले सुशील चंद्रभान भी पहुंच गए। इस प्रकरण में मृतका की मां से पूरी बात की।

Also Read:  गाजीपुर- उमाशंकर हुए बसपाई रे ललमुनिया क माई

पुलिस कप्तान ने प्रथम दृष्टया दोनों के बीच प्रेम संबंधों का होना बताया है। कहा कि पूरे मामले की जांच की जा रही है। मौके से मोबाइल को कब्जे में ले लिया गया है। फोरेंसिक टीम ने भी जांच की है।