मऊ-पुलिस के डर से छुपता मुख्तार अंसारी का प्रतिनिधि

मऊ- बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के प्रतिनिधि की तलाश में बाराबंकी पुलिस मऊ में उसके संभावित छुपने के स्थानों पर लगातार दबिश दे रही है।ज्ञातव्य हो कि एंबुलेंस प्रकरण में फरार चल रहे मुख्तार अंसारी के प्रतिनिधि तथा दो अन्य लोगों की तलाश में बाराबंकी पुलिस मऊ में विभिन्न स्थानों पर दबिश दे रही है।

फर्जी दस्तावेज के आधार पर बाराबंकी एआरटीओ दफ्तर में मुख्तार अंसारी के गुर्गों ने 2013 में फर्जी प्रमाणपत्रों के आधर पर एंबुलेंस का पंजीकरण कराया था। इस एंबुलेंस को मुख्तार अंसारी अपने निजी हित में प्रयोग करते थे।पंजाब के मोहाली कोर्ट में पेसी पर जाते समय एंबुलेंस जिसका नंबर यूपी 41 एटी- 7171 की कहानी वेपर्दा हुई थी। इस प्रकरण में 1 अप्रैल 2021 को मऊ सदर कोतवाली में संजीवनी हॉस्पिटल की संचालिका डॉ अलका राय के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया गया। विवेचना में अलका राय के सहयोगी व भाई डॉक्टर शेषनाथ राय विधायक प्रतिनिधि मोहम्मद सुहैब मुजाहिद,साजिद, आनंद यादव, राजनाथ यादव सहित मुख्तार अंसारी को भी नामजद किया गया था।इस मामले मे डा० अलका ,राजनाथ और व शेषनाथ को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। मुख्तार अंसारी पहले से ही जेल में बंद है और बाकी लोग फरार चल रहे हैं। विवेचक एमपी सिंह और एसआई मारकंडेय सिंह सहित 5 सदस्य टीम मुजाहिद और आनंद की तलाश में रविवार को मऊ पहुंची तथा उनके संभावित छुपे होने के स्थानों पर दबिश दी।

Also Read:  गाजीपुर-अमर शहीदों की कुर्बानी हमेशा याद की जायेगी-डा०एस.सी.शर्मा