मऊ-मुठभेड़ के बाद गाजीपुर निवासी 5 लूटेरे मऊ में गिरफ्तार

मऊ-अपराधी चाहे जितना भी शातिर हो उसे एक ना एक दिन पुलिस और कानून के चंगुल मे फंसना ही पड़ता है।गाजीपुर जनपद के दुल्लहपुर, भुड़कुड़ा, सादात, विरनो, मरदह, जंगीपुर व कासिमाबाद थानाक्षेत्रों मे लूट की घटनाओं से आतंक मचाने वाले शातिर लूटेरे अन्ततः मऊ जनपद की पुलिस के गिरफ्त मे आ ही गये।

मऊ जिले के थाना चिरैयाकोट क्षेत्रान्तर्गत अकबरपुर स्थित भैसही पुलिया के पास बुधवार की भोर में मुठभेड़ के दौरान पांच शातिर लुटेरों को एसओजी, स्वॉट टीम एवं थाना चिरैयाकोट पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने गिरफ्तार पांचों शातिर लुटेरों के पास से लूट की चार मोटर साइकिल, चार तमंचा, जिंदा कारतूस तथा लूट के दो हजार रुपया भी बरामद किया। पूछताछ के दौरान गिरफ्तार लुटेरों ने 9 नवम्बर को थाना चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के सरेसना पुलिस चौकी के पास से लूट की घटना को स्वीकार किया।

पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने बताया कि 9 नवम्बर की रात 10 बजे के करीब थाना चिरैयाकोट अंतर्गत मघइपुर सरसेना में गाजीपुर-आजमगढ़ मुख्य मार्ग के पास लुटेरों ने बाइक सवार युवक को लाठी-डण्डे से मारपीट करके बाइक, मोबाइल फोन, पर्स में रखे चार हजार रुपये नकदी, एटीएम कार्ड लूटकर फरार हो गए थे। लूट की घटना के पर्दाफाश के लिए पुलिस अधीक्षक ने क्षेत्राधिकारी मुहम्मदाबाद गोहना, एसओजी, स्वॉट टीम एवं थाना चिरैयाकोट पुलिस को निर्देशित किया था।

Also Read:  गाजीपुर-रेल संपत्ति चुराने वाले गये जेल

पुलिस गहनता के साथ सर्विसलांस के माध्यम से पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही थी। इस बीच बुधवार की भोर में पुलिस को मुखबिर से सूचना मिला कि पांच शातिर लूटेरे किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में थाना चिरैयाकोट क्षेत्रान्तर्गत अकबरपुर स्थित भैसही पुलिया के पास आए हुए हैं। मुखबिर से सूचना मिलते ही एसओजी, स्वॉट टीम एवं थाना चिरैयाकोट पुलिस टीम ने घेराबंदी किया। इस बीच पांचों शातिर लुटेरे पुलिस टीम को देखते ही तमंचे से फायर करते हुए भागने लगे। इस दौरान पुलिस टीम ने मुठभेड़ के दौरान पांच शातिर लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया।

Also Read:  जनसेवा केन्द्र संचालकों का प्रशिक्षण सम्पन्न

पांचों शातिर लुटेरों की शिनाख्त अजय यादव निवासी बरही थाना मरदह जनपद गाजीपुर, दीपक कन्नौजिया निवासी फत्तेपुर थाना कासिमाबाद जनपद गाजीपुर, अभिषेक यादव निवासी फत्तेपुर थाना कासिमाबाद गाजीपुर, अरविद यादव निवासी बाबू लाल का पूरा थाना करीमुद्दीनपुर गाजीपुर, श्रवण कुमार पाल निवासी उचौरी शेखनपुर थाना कासिमाबाद गाजीपुर के रुप में किया गया।

पुलिस टीम की पूछताछ के दौरान विभिन्न स्थानों पर लूट की अन्य घटनाओं के बाबत भी अहम सुराग मिले है। पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने बताया कि गिरफ्तार शातिर लुटेरों ने बताया कि 9 नवम्बर की रात को मघईपुर सरसेना के पास से हुई लूट की घटना के दौरान लुटेरों ने बाइक, मोबाइल, पर्स में रखे चार हजार रुपये, एटीएम कार्ड भी लूटे थे। साथ ही साथ एटीएम कार्ड आदि सामान को बदमाशों ने नदी में फेंक दिया था। लूटी गई बाइक का नंबर प्लेट बदलकर चल रहे थे।

Also Read:  गाजीपुर-गंगा में डूबे दो किशोर ,बिलखते रहे परिजन

पूछताछ में लुटेरों ने बताया कि अजय यादव, दीपक कन्नौजिया, अरविद यादव तथा अभिषेक चारों लोग मिलकर चोरी और लूट की घटना को अंजाम देते थे तथा लूट की योजना श्रवण कुमार पाल बनाता था। लूट और चोरी की घटना करने के लिए वह अपनी बाइक भी देता था। चोरी व लूट में जो सामान या गाड़ी मिलती उसे बेचने से जो रुपये मिलते उसमें श्रवण कुमार पाल को भी हिस्सा दिया जाता था। गिरफ्तार शातिर लुटेरों के खिलाफ गाजीपुर जनपद में कई आपराधिक मुकदमें दर्ज है। गिरफ्तार लुटेरे से मिले अहम सुराग के आधार पर पुलिस पूरे मामले की गहनता के साथ छानबीन में जुटी हुई है।