लखनऊ-पुर्वांचल मे सपा को जोर का झटका

लखनऊ-उत्तर प्रदेश मे होने वाले विधानसभा चुनाव 2022 से पहले समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका लगा है। पूर्वांचल में सियासत के केंद्र और बनारस में सपा का मजबूत स्तंभ ढह गया है। पूर्व परिवहन मंत्री और सपा एमएलसी शतरुद्र प्रकाश भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं। शुक्रवार को लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय पर शतरुद्र प्रकाश को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सदस्यता दिलाई। इस मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि शतरुद्र प्रकाश के आने से भाजपा मजबूत होगी। ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेई ने कहा कि समाजवादी आंदोलन राह से भटक गया है। शतरुद्र प्रकाश पुराने समाजवादी नेता हैं। मुलायम सरकार में विधायक चुने जाने के बाद परिवहन मंत्री भी बने। माना जाता है कि शतरुद्र सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी हैं। 2012 में जब अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बने तो शतरुद्र प्रकाश पार्टी में अलग-थलग पड़ गए। हालांकि वाराणसी सहित पूर्वांचल में उनकी सियासी मजबूती बनी रही। सरकार पर लगातार हमलावर रहे।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store