लखनऊ-मासूम की मौंत सवालों के घेरे में

165

लखनऊ- एसआर कॉलेज की हॉस्टल में रहने वाली अक्षा 8 की 13 वर्षीय छात्रा प्रिया राठौर पर बर्बरता की गई थी। उसका गला दबाया गया और उसे घसीटा भी गया।इसके सबूत प्रिया की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौजूद है।लखनऊ शहर के एक बड़े पोस्टमार्टम एक्सपर्ट ने पोस्टमार्टम में आए तथ्यों का विस्तार से विश्लेषण कर बताया कि रिपोर्ट से स्पष्ट है कि प्रिया की मौत कोई हादसा या आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या है। जालौन निवासी जसराम राठौर की बेटी बीकेटी स्थित एसआर कॉलेज में आठवीं कक्षा की पढ़ाई कर रही थी।वह स्कूल के हॉस्टल में रहती थी। 20 जनवरी की रात प्रिया की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। स्कूल प्रशासन मामला दबाने के लिए बार-बार बयान बदल रहा था।

आखिर में सोमवार को जसराम की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात पर हत्या का केस दर्ज किया। प्रिया की पोस्टमार्टम से कई बड़े खुलासे हुए हैं।एक्सपर्ट के मुताबिक प्रिया की गले की (सर्वाइकल) की सी-7,सी-4,सी-5 हड्डियां टूटी है।गले में ऐसी चोट भी पाई गई जो गिरने से नहीं बल्कि गला दबाने से या मारने से ही आ सकती है। प्रिया के शरीर के पिछले हिस्से हिप्स में रगड़ के निशान थे जो घसीटे जाने की ओर इशारा करते हैं। इसका मतलब साफ है उसका गला दबाया गया और उसे घसीटा भी गया। बर्बरता की वजह से उसके पैर की हड्डी व पसलियां टूटी।एक्सपर्ट का कहना है कि एक तरह से लीचिंग कर उसे मारा गया। प्रिया की मौत शाँक एंड हेमरेज की वजह से हुई।

एक्सपर्ट के मुताबिक मृतका के गर्भाशय व उसके आसपास के हिस्से में ढाई लीटर खून जम गया था। उसके प्राइवेट पार्ट पर किसी तरह के कोई चोट नहीं पाई गई। हाथों के पंजों पर चोट के निशान और पैर का टुटा हुआ पंजा भी इसारा कर रहा है कि कहीं उसके हाथ पैर तो नहीं बांधे गए।कुछ चोटें ऐसी हैं जिससे पता चला कि प्रिया ने बचने के लिए कड़ा संघर्ष किया था। प्रिया के पैर के पंज्जे की हड्डी भी टूटी थी। हाथों के पंजों पर भी चोट के निशान हैं।एक्सपर्ट के अनुसार हो सकता है कि प्रिया के हाथ पैर बांधे गए हो।हालांकि अब पुलिस हत्या के बिंदु पर तफ्तीश कर रही है।विवेचना पूरी होने के बाद सभी तथ्यों का खुलासा हो जायेगा। दीवार से महज 3 फीट 11 इंच की दूरी पर मिली लाश कुदती या धक्का दिया जाता तो जमीन पर खून जरूर बहा होता। फॉरेंसिक टीम ने भी मंगलवार को घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन की। सूत्रों ने बताया कि बिल्डिंग 5 माले की है बिल्डिंग की दीवार से प्रिया 3 फुट 11 इंच की दूरी पर पडी मिली थी।ऊंचाई से कूदने पर दीवाल के इतना नजदीक गिरना संभव नहीं है। अगर वह कुदी होती या उसे छत से धक्का दिया गया होता वहां शरीर से खून वह जरूर निकला होता। आशंका है कि उसको मार कर वहां फेंका गया।साभार अमर उजाला

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries