वलियां मे 37 , गाजीपुर मे 41 हजार ने परीक्षा छोड

गाजीपुर- दुनिया की सबसे बड़ी परीक्षा उत्तर प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा परिषद संचालित करती है । लेकिन अन्य वर्षों से अलग इस वर्ष उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है , और भारतीय जनता पार्टी की सरकार नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए कृतसंकल्पित है । इसी निश्चय के चलते नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगवाने के साथ साथ , केंद्र व्यवस्थापक,कक्ष निरीक्षक ,परीक्षार्थी के उपर FIR दर्ज कराने का प्रावधान भी किया गया है। इसी कडाई के चलते तमाम परीक्षार्थी , परीक्षा छोड़कर भाग रहे हैं। कासिमाबाद के श्री गांधी इंटर कॉलेज भोजापुर पर पंजीकृत 150 परीक्षार्थियों मे से 80 ने परीक्षा छोड दिया। माता जमुनीदेवी इंटर कॉलेज नोनहरा मे 551 पंजीकृत परीक्षार्थियों में से 185 ने परीक्षा छोड़ दिया। शिवपूजन इंटर कॉलेज मलसा में पंजीकृत 621 परीक्षार्थियों में से , 98 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दिया। इंटर कॉलेज बेटाबर मे पंजीकृत 407 छात्रों में से 30 छात्रों ने परीक्षा छोड़ दिया। हिंदू इंटर कॉलेज जमानिया में पंजीकृत 478 में से 56 विद्यार्थियों ने परीक्षा छोड़ दिया। पलकधारी इंटर कालेज तुरना के केन्द्र व्यवस्थापक तहसीलदार यादव ने बताया कि कुल 716 पंजीकृत छात्रों में से 416 ने परीक्षा छोड़ दिया । इसी तरह से श्री वंशी बाल गोपाल इंटर कॉलेज सगरा राजूपुर में पंजीकृत 601 क्षात्रों मे से 237 क्षात्रों ने परीक्षा छोड दिया। गाजीपुर मे कुल 279 परीक्ष केन्द्र है। हाईस्कूल मे पंजीकृत क्षात्रों की संख्या है 134530 और इन्टर मे पंजीकृत क्षात्रो की संख्या 101556 है।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store