वाराणसी-एनकाउंटर में फरार लल्लन पर 1 लाख का इनाम

453

वाराणसी-कमिश्नरेट पुलिस वाराणसी ने लक्सा थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर अजय यादव को गोली मारकर पिस्टल,पर्स व मोबाइल लूटने वाले बदमाश से सोमवार को तड़के हुई पुलिस मुठभेड़ में दो बदमाशों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया था। इस दौरान तीसरा भाग निकला था। मरने वाले दोनों बदमाशों की पहचान सगे भाइयों के रूप में हुई थी। भागने वाला बदमाश भी मारे गए दोनों बदमाशों का सगा भाई है।पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने भाग निकले बदमाश लल्लन सिंह पर 1 लाख का इनाम घोषित कर दिया है। पुलिस आयुक्त ने बताया कि लल्लन सिंह के विषय में जानकारी देने वाले का नाम पता गोपनीय रखा जाएगा। पुलिस की एक टीम बिहार भेजी जा रही है। पुलिस आयुक्त ने बताया कि मंगलवार को एसआईटीक्ष टीम के साथ आगे की रणनीति पर विस्तृत विचार-विमर्श किया गया। छोटे-छोटे इंडिविजुअल तथ्य मिले है।कुछ पुलिस टीम को बिहार रवाना किया जा रहा है। अब तक की जांच की प्रगति की समीक्षा की गई। शातिर अभियुक्त ललन सिंह की गिरफ्तारी के लिए 1 लाख का इनाम घोषित किया गया है। फरार अभियुक्त ललन सिंह के बारे में जानकारी साझा करने वाले व्यक्ति की पहचान गोपनीय रखी जाएगी। गैंग के स्थानीय मददगारों की पहचान कर ली गई है उनके विरुद्ध भी विधिक कार्यवाही की जाएगी। बदमाशों की मदद करने वाले भी कानून की जद में आएंगे। आपको याद होगा एसआई अजय यादव को गोली मारकर पिस्टल लूटने वाले दो बदमाशों को सोमवार की सुबह पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया था। मुठभेड़ के दौरान एक शख्स भाग निकला था, उसकी तलाश की जा रही है। सब इंस्पेक्टर से लूटी गई पिस्टल बरामद कर ली गई है। सभी बदमाश सगे भाई हैं और बिहार में कई वारदातों में शामिल रहे हैं।तीनों भाई पटना जेल से भागे थे और वाराणसी में शरण लिए थे। 9 नवंबर को एसआई को गोली मारकर पिस्टल पर्स और मोबाइल लूट लिए थे।सोमवार तड़के पुलिस ने वारदात में शामिल 2 बदमाशों को ढेर कर दिया था। पुलिस एनकाउंटर भेलखा गांव के पास रिंग रोड पर हुई थी। पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने एनकाउंटर वाली टीम में शामिल दो एसआई को प्रमोशन देते हुए थाने का इंचार्ज बना दिया था। राज्य पुलिस के मुखिया डीजीपी डॉ डीएस चौहान ने एनकाउंटर करने वाली टीम को 2 लाख रूपये इनाम देने का ऐलान किया था। पुलिस के मुताबिक मुठभेड़ में मारे गए रजनीश व मनीष के दो अन्य भाई लल्लन और राजेश भी अपराधिक कृत्य में लिप्त हैं ।आज खबर मिली की पिता शिव शंकर ने मारे गए दोनों बदमाशों रजनीश उर्फ बऊआ और मनीष के शव को लेने से इनकार कर दिया है।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries