वाराणसी-पीएम 13 को लोकार्पित करेंगे काशी विश्वनाथ धाम,होगा मेगा इवेंट,देखेगी दुनिया

वाराणसी- श्री काशी विश्वनाथ धाम के विस्तारीकरण का 80 फीसदी से ज्यादा काम पूरा हो चुका है। वहीं इसके लोकार्पण की तारीख भी फाइनल हो गयी है। जानकारी के मुताबिक 13 दिसंबर को एक भव्य कार्यक्रम के बीच प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण करेंगे। इस दिन सोमवार भी पड़ रहा है। इस आयोजन को भव्य बनाने के लिए देश के सभी ज्योर्तिलिंगों के पुजारी मौजूद रहेंगे। साथ ही कार्यक्रम का सीधा प्रसारण पूरे देश में किया जाएगा।

सभी ज्योर्तिलिंगों के पुजारी रहेंगे मौजूद-
लोकार्पण समारोह का जो पहला इवेंट है वो बाबा काशी विश्वनाथ का जलाभिषेक होगा। इसके लिए देश भर की नदियों से जल मंगाया जा रहा है। दूसरा इवेंट लेजर शो का है जिसके माध्यम से श्रीकाशी विश्वनाथ कारिडोर निर्माण की प्रगति को दर्शाया जाएगा। इसमें बाबा के मंदिर निर्माण का इतिहास भी समाहित होगा जिसमें रानी अहिल्याबाई द्वारा कराये कार्यों का उल्लेख भी रहेगा। इसके बाद शाम होते ही गंगा के घाट गुलजार हो जाएंगे। दीपावली जैसी रोशनी बिखरेगी तो आतिशबाजी से गंगा का किनारा गूंज उठेगा। इस आयोजन को भव्य बनाने के लिए देश के सभी ज्योर्तिलिंगों के पुजारी मौजूद रहेंगे।

Also Read:  गाजीपुर-मातृभूमि संगठन ने 13 परिवारों में राशन बांटा

कार्यक्रम का होगा सीधा प्रसारण-
सभी धर्माचार्यों की उपस्थित में सभी अनुष्ठान पूरे किए जाएंगे। श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण को लेकर जो भी कार्यक्रम होंगे उसका सीधा प्रसारण पूरे देश में किया जाएगा। इसके तहत ज्योर्तिलिंग मंदिरों के अलावा बड़े शिवालयों व देवालयों में भी बड़े स्क्रीन की एलइडी लगाई जाएगी ताकि कतार में खड़े भक्तजन भी ऐतिहासिक पल को आंखों से देख सकेंगे। इसी आधार पर श्रीकाशी विश्वनाथ कारिडोर, खिड़किया घाट पुनरुद्धार समेत अन्य परियोजनाओं पूरा करने की अंतिम समय सीमा 10 दिसंबर तक कर दी गई है। इस तारीख को परियोजनाएं मुकम्मल चाहिए। कोई कमी नहीं रहने की ताकीद करा दी गई है।

Also Read:  गाजीपुर-वह मुझे गाली देता था इस लिए सर कुंचकर मार डाला, आरोपी गिरफ्तार

इस आयोजन को लेकर जो कार्यक्रम बन रहे हैं उससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि पीएम मोदी का काशी में दो दिनी प्रवास होगा। तय हो रहे कार्यक्रम के अनुसार 14 दिसंबर को राष्ट्रीय स्तरीय बैठक होगी जिसमें भाजपा के पदाधिकारी शामिल होंगे। आयोजन में कोई कसर नहीं रहे, इसलिए लोकार्पण कार्यक्रम को हरी झंडी देने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार के जिम्मेदार मंत्री व अफसरों पहले ही बनारस आ जाएंगे।

Also Read:  पत्रकार से दरोगा की दबंगई