वाराणसी-01 लाख के इनामी बीकेडी के नाम पर 1 करोड़ की मांगी रंगदारी

वाराणसी- भेलूपुर थाना क्षेत्र के सरायनंदन शुकुलपुरा निवासी रियल एस्टेट कारोबारी जितेंद्र यादव समाजवादी पार्टी से जुड़े हुए हैं।इनका बनारस सहित लखनऊ में रियल स्टेट का कारोबार फैला है। जितेंद्र यादव के अनुसार 30 दिसंबर 2021 की शाम उनके मोबाइल पर अनजान नंबर से फोन आया और खुद को माफिया बीकेडी बताते हुए 1 करोड़ रुपए की मांग की गयी.पहले तो किसी शरारती तत्व की करतूत समझ फोन कॉल को हल्के में लिया। लेकिन कुछ ही देर बाद फिर से दूसरी कॉल आई और तल्ख लहजे में कहा गया कि रुपए नहीं मिले तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहना। इसके बाद भेलूपुर थाने में तहरीर दी।

Also Read:  गाजीपुर- 8 बाइकों सहित 6 चोर गिरफ्तार

डीसीपी काशी जोन आरएस गौतम ने बताया कि जिस फोन कॉल से धमकी मिली है उस नंबर का डिटेल खंगाला जा रहा है और कारोबारी की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बीकेडी सेंट्रल जेल में निरूद्ध बाहुबली एमएलसी बृजेश सिंह के चचेरे भाई सतीश सिंह की हत्या कर सुर्खियों में आया था। चौबेपुर थाना अंतर्गत धौरहरा निवासी इंद्रदेव सिंह की तलाश पुलिस वर्ष 2013 से कर रही है।एमएलसी बृजेश सिंह और उसके परिवार के बीच अदावत में डीकेडी ने 4 जुलाई 2013 की सुबह एमएलसी के चचेरे भाई सतीश सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी।इसके पूर्व 4 मई 2013 की रात अर्दली बाजार टकटकपुर निवासी अजय सिंह खलनायक के वाहन पर बीकेडी ने अंधाधुंध फायर की। इसमें बृजेश सिंह के करीबी अजय सिंह खलनायक और उसकी पत्नी मीरा सिंह को गोली लगी थी जिन्हें चिकित्सकों ने बचा लिया था। इसके बाद पुलिस ने उस पर एक लाख का इनाम घोषित किया।

Also Read:  गाजीपुर-दुष्कर्मी को 20 वर्ष की सश्रम कारावास

हालांकि कारोबारी जितेंद्र यादव को धमकी भरे फोन कॉल को लेकर यह भी कहा जा रहा है कि बीकेडी के नाम पर किसी अन्य ने रंगदारी मांगी होगी क्योंकि इधर सात- आठ साल में बीकेडी का नाम किसी भी छोटी या बड़ी अपराधिक घटना में सामने नहीं आया है। 5 साल पहले रियल स्टेट कंपनी को लेकर जितेंद्र का भी कुछ लोगों से विवाद हुआ था। पुलिस रियल एस्टेट कारोबारी जितेंद्र का भी इतिहास पता कर रही है।पुलिस को आशंका है कि 2017 में रियल स्टेट कंपनी बनाने को लेकर कुछ लोगों से जितेंद्र यादव का जो विवाद हुआ था पुलिस इस पहलू को भी ध्यान रखकर इतिहास भूगोल खंगाल रही है। चौबेपुर थाना प्रभारी राजेश त्रिपाठी ने बताया कि बीकेडी थाने के टॉप-10 अपराधियों में टाप पर है हालांकि उसकी कोई फोटो नहीं होने के कारण उसकी हिस्ट्रीसीट नहीं खुल सकी है।

Also Read:  गाजीपुर- फेसबुक पर भगवान राम पर अशोभनीय पोस्ट करने वाला गिरफ्तार