शासन के कडे रुख के बाद भी धरना-प्रदर्शन जारी

गाजीपुर – शासन के कडे रुख के बाद भी लेखपालों का धरना-प्रदर्शन लगातार जारी है।धरना-प्रदर्शन में वक्ताओं ने कहा कि प्रारंभिक वेतनमान ग्रेड पे दो हजार से बढ़ाकर 2800 किया जाए। एसीपी विसंगति दूर होना चाहिए। लैपटाप व स्मार्टफोन उपलब्ध कराने के साथ ही राजस्व परिषद द्वारा प्रस्तावित राजस्व उपनिरीक्षक सेवा नियमावली 2017 को कैबिनेट में पारित कराया जाए। विशेष वेतन भत्ता 1500 रुपये, यात्रा भत्ता के स्थान पर बाइक भत्ता दो हजार तथा स्टेशनरी भत्ता 750 रुपये प्रतिमाह होना चाहिए। पुरानी पेंशन व्यवस्था का लाभ दिया जाए। राजस्व निरीक्षक पदोन्नति में संग्रह अमीन व भूमि अध्याप्ति अमीन का कोटा समाप्त किया जाए और 25 फीसद पद लेखपालों की विभागीय परीक्षा द्वारा भरा जाए। राजस्व निरीक्षक कार्यालय के 626 अतिरिक्त पदों का सृजन होना चाहिए। नायब तहसीलदार के पदों पर पदोन्नति कोटा 50 फीसद से बढ़ाकर 75 फीसद किया जाए। लेखपालों को आधारभूत सुविधाएं व संसाधन मुहैया कराया जाए। धरना-प्रदर्शन में विनोद कुमार यादव, जोखन राम, बृजकिशोर, विनोद यादव, केशव प्रसाद, वीरेंद्र सिह यादव, धीरेंद्र सिह, रमेश चंद्र राम, लालचंद राम, उदय प्रताप यादव, रमेश राम, चितरंजन चौहान, संजय पांडेय, ¨झगुरी राम आदि शामिल थे। संचालन जिला मंत्री रामलखन राम ने किया

Also Read:  और खेल -खेल में बच्चे की मौत