शुनील राठी का भाई अरविंद बगपत से देवरिया जेल में सिफ्ट

बागपत-करीब 15 साल पहले अरविन्द राठी को हत्या के मामले में मेरठ की एक कोर्ट द्वारा उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। पिछले 14 सालों में मेरठ जेल के बाद उसे पहले आगरा शिफ्ट किया गया उसके बाद इलाहबाद की नैनी जेल, फिर बुलंदशहर, और वहां से देवरिया। बताया जाता है कि अपनी सजा के 14 साल पूरे होने के बाद उसने शासनादेश के आधार पर आम माफी के लिए आवेदन किया था।

Also Read:  गाजीपुर-सरकारी आवास पर अबैध कब्जा, धरने पर कर्मचारी

डीएम-एसपी समेत कई अधिकारियों की समिति आवेदन पर विमर्श के बाद शासन को अपनी सहमति रिपोर्ट भेजती है, जिसके बाद आवेदक को रिहा कर दिया जाता है। जेल सूत्रों के अनुसार समिति की बैठक में बंदी को पेश भी किया जाता है और इसी बैठक में पेशी के लिए 18 जुलाई 2017 को अरविंद राठी को देवरिया से बागपत भेजा गया था। तभी से वह बागपत जेल में ही रह रहा था। इसी के मध्य बागपत जेल में कुख्यात माफिया डाँन मुन्ना बजरंगी की अरविंद राठी के भाई शुनील राठी के द्वारा हत्या कर दिया गया। मिडिया में जब अरविंद की देवरिया जेल में वापसी को लेकर सवाल उठाया गया तो जेल प्रशासन ने अपनी गलतियों को सुधारते हुए बागपत से देवरिया जेल में सिफ्ट किया गया।

Also Read:  गहमर और गाजीपुर के मध्य बच्ची के साथ विवाहिता लापता