सदर विधायक ने पीडब्ल्यूडी के साहब को चलता किया

गाजीपुर – ई-टेंडरिंग में फर्जीवाड़ा कर तीन सड़कों की मरम्मत में गड़बड़ी करने वाले के मामले में शासन ने कार्रवाई की है। सीएम के निर्देश पर बनी सात सदस्यीय टीम की रिपोर्ट के आधार पर एई मनीष कुमार का स्थानांतरण कर दिया गया। वहीं मामले से जुड़े अन्य लोगों पर भी जांच के बाद कार्रवाई की आशंका है।

Also Read:  गाजीपुर-डीएम ने किया डोमराजा की भी फीस निर्धारित

बता दें कि बीते दिनों सदर से भाजपा विधायक डॉक्टर संगीता बलवंत ने पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा बीते दिनों जिले की तीन सड़कों की मरमत के लिए ई टेंडरिंग प्रक्रिया में धोखाधड़ी का खुलासा किया था। विधायक ने डीएम से लेकर पीडब्लूडी और मुख्यमंत्री तक मामले को पहुंचाया और दोषियों पर कार्रवाई की मांग की। उनका आरोप था कि तीनों ही सड़कों की मरमत के लिए विभाग द्वारा एक ही फर्म को टेंडर दिया गया। साथ ही उन्होंने विज्ञापन में सड़क मरम्मत के लिए घोषित की गई राशि में स्टीमेट बनाने के दौरान इजाफा करने पर भी सवाल खड़ा किया। विधायक डॉ. संगीता बलवंत की शिकायत पर सात सदस्यीय टीम ने एई को दोषी मानते हुए रिपोर्ट सौंपी थी। सोमवार को एई मनीष कुमार को मुख्य खंड प्रथम से हटा दिया गया है। इसके साथ ही उन्हें तत्काल रिलीव भी किया गया।

Also Read:  करण्डा- कागजों मे ही बही विकास की गंगा