सोनभद्र-पत्नी व प्रेमी ने की प्रोफेसर की हत्या, पर्दाफाश

सोनभद्र- एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह के निर्देश पर अपराध और अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत पुलिस ने दुद्धी कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत बीआरडी कॉलेज के प्रोफ़ेसर डॉक्टर जगजीत सिंह पुत्र स्वर्गीय मोहनलाल हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि उसकी पत्नी व प्रेमी को गिरफ्तार वारदात में प्रयुक्त चाकू बरामद करने में सफलता हासिल किया है।चुर्क पुलिस लाइन में रविवार को पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि घटना के शीघ्र अनावरण हेतु अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन राजीव कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी दुद्धी रामाशीष यादव के नेतृत्व में दुद्धी पुलिस व क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम गठित की गई थी। टीम द्वारा साक्ष्यों के आधार पर घटना में संलिप्त मृतक की पत्नी अलका सिंह पत्नी स्वर्गीय जगजीत सिंह निवासी भदियापुर धाता फतेहपुर वर्तमान पता मलदेवा डीसीएफ कॉलोनी दुद्धी व अभियुक्त हेमचंद पुत्र श्यामलाल निवासी जमुई बाजार मड़िहान मिर्जापुर को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त आला कत्ल चाकू बरामद किया।एसपी ने बताया कि पूछताछ में अलका सिंह ने बताया कि मेरे पति कई लोगों से नौकरी दिलाने के नाम पर पैसा लिए थे और नौकरी दिलाने विफल रहे जिसके कारण उनके ऊपर काफी कर्ज हो गया था जिससे सैलरी का लगभग आधे से ज्यादा पैसा उधार चुकाने में चला जाता था। जिससे घर की आर्थिक हालत काफी तंग हो गई थी।पिछले कुछ वर्षों से वह शराब का भी सेवन करते थे ।वह अक्सर मुझे मारा-पीटा करते थे जिससे मैं तंग आ गई थी। हेमचंद का मेरे घर पर अक्सर आना-जाना रहता था व उसके संबंध पिछले कुछ वर्षों से ही मेरे साथ पति पत्नी की तरह हो गए थे। इसलिए हम दोनों ने मिलकर बीते 9 नवंबर की रात उनकी हत्या कर दी।पहले पराठे में नींद की दवा खिला कर उन्हें सोने पर तकिया से मुंह दबाकर मारने की योजना थी ताकि बाद में इसे सामान्य मौत का रूप दिया जा सके लेकिन प्लान के मुताबिक मैंने पराठे में नींद की दवा मिलाकर पति को खिला दिया। उनके सोने पर हेमचंद्र ने जैसे ही तकिए से मुंह दबाया उनकी नींद खुल गई। भेद खुलने के डर से हेमचंद्र ने चाकू से कई वार करक्ष उनको मौत के घाट उतार दिया और फरार हो गया। एसपी ने बताया कि दोनों के विरुद्ध विधिक कार्यवाही की जा रही है।एसपी सोनभद्र ने पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम को 25000 पुरस्कार देने का ऐलान किया।

Also Read:  गाजीपुर के असलहा तस्कर मऊ में गिरफ्तार