विधवा, दिव्यांग पेन्शन और राशन कार्ड का होगा सत्यापन-सीडीओ

0
298

गाजीपुर – जनपद में संचालित लाभार्थीपरक एवं कल्याणकारी योजनाओं का लाभ वंचित पात्र लाभार्थीयों को प्राप्त कराने के उद्देश्य से
सर्वेक्षण कार्य कराये जाने का निर्देश के क्रम में मुख्य विकास अधिकारी हरिकेश चैरसिया ने निम्नलिखित योजना जिसमें पति की मृत्यु के उपरान्त निराश्रित महिलाओं के पेंशन, वृद्धावस्था किसान पेंशन, दिब्यांगजन पेंशन,
अन्त्योदय राशन कार्ड , पात्र ग्रहस्थी राशन कार्ड, मुख्यमंत्री आवास योजना-ग्रामीण, प्रधानमंत्री आवास योजना -शहरी एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना आदि योजनाओं से सम्बन्धित सर्वेक्षण कार्य हेतु अधिकारियों
को निर्देशित किया कि उपरोक्त सर्वेक्षण का कार्य ग्राम पंचायत/राजस्व ग्राम स्तर पर तैनात आशा, आगनबाड़ी कार्यकत्री एवं सफाई कर्मियों द्वारा किया जायेगा। सर्वेक्षणोपरान्त सर्वेक्षणकर्ता उक्त प्रपत्र/प्रारूप ग्राम पंचायत स्तर पर नामित सत्यापनकर्ता को उपलब्ध करायेंगें जिसका सत्यापन कार्य सम्बन्धित ग्राम पंचायत के सचिव, तकनीकी सहायक एवं रोजगार सेवकों द्वारा किया जायेगा। सत्यापनकर्ता सर्वेक्षणकर्ता द्वारा उपलब्ध
कराये गये प्रपत्रों /प्रारूपों को सत्यापित कर ग्राम पंचायत की खुली बैठक में पढ़कर सुनाया जायेगा। तत्पश्चात अपने न्याय पंचायत स्तर पर नामित किये गये सुपरावाईजर, जो कि सहायक विकास अधिकारी, मुख्य सेविका,
एन.पी.आर.सी., आपूर्ति निरीक्षक, प्राविधिक सहायक आदि होंगे, को प्रतिसत्यापन हेतु उपलब्ध करायेंगे। उन्होने ने बताया कि न्याय पंचायत स्तर पर तैनात किये गये सुपरवाईजर,
सत्यापनकर्ता द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचना का परीक्षण अपने स्तर पर करेंगे तथा उनका कम से कम 15 प्रतिशत स्थल पर जाकर प्रति-सत्यापन करेंगे। सूचना से संतृष्ट होने के उपरान्त नियत प्रारूप पर अपना हस्ताक्षर अंकित करते हुए उसे विकास खण्ड स्तर पर नामित सहायक नोडल अधिकारी खण्ड विकास अधिकारी को उपलब्ध करायेंगे। विकास खण्ड स्तर पर नोडल अधिकारी जनपदस्तीय अधिकारी होंगे, जिन्हें पूर्व में विकास कार्यो के सत्यापन हेतु नामित किया गया है। इनकी सहायता के लिए खण्ड विकास अधिकारी, खण्ड शिक्षा अधिकारी एवं विकास खण्ड मुख्यालय स्थित सामुदायिक/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी चिकित्साधिकारी सहायक नोडल अधिकारी होंगे। खण्ड विकास
अधिकारी द्वारा इस टीम के सदस्य सचिव के रूप में सम्पूर्ण सूचनाओं को संग्रहित करके उसे कम्प्यूटर पर साफ्ट कापी मे तैयार करवाने हेतु
उत्तरदायी होंगे। विकास खण्ड स्तर पर नामित उपर्युक्त अधिकारी विकास खण्ड स्तरीय कमेटी के रूप में कार्य करेंगे। नगरीय क्षेत्रों मे उक्त
सर्वेक्षण कार्य मुख्य राजस्व अधिकारी,गाजीपुर द्वारा अपने निर्देशन मे सम्पन्न कराया जायेगा, जिसके लिए सम्बन्धित नगरीय क्षेत्र के अधिशासी अधिकारी नोडल अधिकारी होगे, जो अपने क्षेत्र मे कार्यरत अपने कार्मिकों
द्वारा सर्वेक्षण कार्य सम्पन्न कराना सुनिश्चित करेगे। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्रों का सर्वेक्षित डाटा कम्प्यूटर पर फीड कराकर साफ्ट कापी
मे जिला विकास अधिकारी को उपलव्ध कराने के लिए खण्ड विकास अधिकारी उत्तरदायी होगे। सर्वेक्षण कार्य को ससमय गुणवत्तापूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए जनपद स्तर पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता मे एक समिति का गठन किया गया है जिसमे जिलाधिकारी अध्यक्ष, मुख्य विकास अधिकारी उपाध्यक्ष, जिला विकास अधिकारी सदस्य/सचिव, मुख्य चिकित्साधिकारी सदस्य,जिला पूर्ति अधिकारी सदस्य,जिला समाज कल्याण अधिकारी सदस्य,परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण सदस्य, परियोजना अधिकार डूडा सदस्य,जिला पंचायत राज अधिकारी सदस्य, जिला दिव्यांगजन कल्याण अधिकारी सदस्य, एवं जिला प्रोवेशन अधिकार सदस्य नामित किये गये है।सर्वेक्षण कार्य मे नामित समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों को निर्देशित किया जाता है कि वह उपरोक्तानुसार समस्त कार्यवाही समयान्तर्गत सम्पन्न कराना सुनिश्चित करेगे तथा इसमे किसी भी स्तर पर शिथिलता/लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी।

Leave a Reply