जिलाधिकारी ने क्या और क्यो दिया पीडब्ल्यूडी अभियंता को निर्देश ?

0
222

गाजीपुर-जिलाधिकारी के बालाजी ने आज
सैदपुर स्थित गंगा नदी पर निर्मित सेतु (सैदपुर-चहनिया) का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि सेतु पर कंक्रीट की बनी रेलिंग स्थान- स्थान पर क्षतिग्रस्त हो गयी है तथा सेतु पर आवागमन के समय थोड़ी सी भी असावधानी बरतने पर टूट सकती हैं तथा पुल को जोड़ने वाला एप्रोच मार्ग भी क्षतिग्रस्त है, जिससे वाहनो, एवं कावरियो के आवागमन के
समय समस्या उत्पन्न हो सकी है और दुर्घटना का कारण बन सकता है, जिसपर जिलाधिकारी ने भारी वाहनो एवं कावरियो के आगमन के भारी दबाव को देखते हुए अधिशासी अभियन्ता लो0नि0वि0 प्रान्तीय खण्ड गाजीपुर एवं प्रोजेक्ट
मैनेजर उ0प्र0 राज्य सेतु निगम गाजीपुर/वाराणसी को उक्त सेतु एवं एप्रोच मार्ग का स्वयं निरीक्षण कर अविलम्ब मरम्मत कराकर श्रावण मास के प्रारम्भ तक निश्चित रूप से आवागमन योग्य बना लिया जाय। ताकि कावरियो एवं वाहनो के आवागमन के समय किसी प्रकार की समस्या न उत्पन्न हो। मौके पर मुख्य विकास अधिकारी हरिकेश चैरसिया, उपजिलाधिकारी सैदपुर उपस्थित थे।

Leave a Reply