गाजीपुर-बर्ड फ्लू पर नियंत्रण हेतू टास्क फोर्स की बैठक सम्पन्न

0
290

ग़ाज़ीपुर 15 जनवरी 2021- एवियन इंफ्लूएंजा (बर्ड फ्लू) पर प्रभावी नियंत्रण हेतु टास्क फोर्स की बैठक आज दिनांक 15.01.2021 को जिलाधिकारी एम0पी0 सिंह के अघ्यक्षता मे राइफल क्लब सभागार मे सम्पन्न हुई। बैठक मे बर्ड फ्लू के रोग के प्रसार की सम्भावना पर नियंत्रण हेतु आवश्यक दिशा निर्देश के साथ अनुपालन मे पर्याप्त सुरक्षात्मक कदम उठाये जाने हेतु विस्तार पूर्वक चर्चा की गयी। बैठक मे जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि एवियन इंफ्लूएंजा की सघन निगरानी हेतु जनपद के जलाशयो के समीप आने वाले प्रवासी पक्षियो एवं कुक्कुट फार्मो की निरंतर कड़ी चौकसी रखी जाय तथा सीरो सर्विलांस कार्यक्रम को प्रभावी तरीके से जारी रखा जाय। यदि कहीं से पक्षियों के अस्वभाविक मृत्यु होती है तो तत्काल सूचित करते हुए मृत पक्षी को सम्बन्धित परीक्षण प्रयोगशाला मे जांच हेतु भेजने का निर्देश दिया गया। उन्होने कहा कि वाटर वाडीज के आस-पास एवं पोल्ट्री फार्मो पर विशेष सतर्क दृष्टि रखते हुए सभी का निरंतर निरीक्षण किया जाय। इसके साथ ही फार्मो के मालिको को समूचित दिशा निर्देश देकर साफ-सफाई की व्यवस्था के साथ ही पर्याप्त वायो सिक्योरिटी सुनिश्चित की जाय तथा कुक्कुट तथा कुक्कुट उत्पादो के थोक तथा फुटकर बाजारो मे भी साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय। मुर्गियो/अन्य पक्षियो तथा अंडो का परिवहन खंुले वाहनो से न करने का निर्देश दिया जिससे परिवहन के दौरान उनके पंख/वीट वाहर न निकले। जनपद में कुक्कुट तथा उनके उत्पाद विक्रय वाले बाजारो को सप्ताह मे एक दिन मंगलवार बन्द कर उन स्थानो को साफ-सुथरा एवं विसंक्रमित करने का निर्देश दिया। मुर्गा/अड्डा विक्रेता चौराहो, खुले स्थानो व रास्तो पर नही काटे जायेगे। लाइसेन्स धारी दुकानदार ही खड़ा मुर्गा ही विक्रय कर सकता है जिनका लाईसेन्स रिनुवल होगा अन्यथा परमीट न होने पर पकड़े जाने पर सख्त कार्यवाही की जायेगी।
 इसके अतिरिक्त उन्होने निर्देश दिया कि  मृत पक्षी की सूचना तत्काल जिला स्तरीय कोविट कन्ट्रोल रूम या पशुपालन निदेशालय स्तर पर स्थापित कन्ट्रोल को सूचित करें। अच्छी तरह से पकाये गये कुक्कुट या अण्डे से बर्ड फ्लू नही फैलता है, इसलिए कुक्कुट या इससे सम्बन्धित उत्पाद को अच्छी तरह से पका कर ही खाये। क्या न करे-यदि कोई पक्षी मृत पायी जाय तो इसे छूवे नही, अफवाहो पर ध्यान न दे, जिन क्षेत्रो मे बर्ड फ्लू की सूचना प्राप्त हो उसके आस-पास भ्रमण न करें तथा संक्रमित पक्षियो के सीधे सम्पर्क मे आने से बचे तथा उनको हाथो से दाना आदि न खिलाएं।

Leave a Reply