गाजीपुर-तीन मांह से बन्दर बने है बैंक उपभोक्ता

0
287

गाजीपुर-खाताधारकों के धैर्य की परीक्षा न ले यूबीआई शाखा पहाङपुर (देवकली),सब्र का बांध टूट रहा है। साढे तीन माह मे मात्र बैंक नेट वर्क ठीक रहने से मात्र 8 दिन काम काज हुआ शेष दिन बासूपुर बैंक शाखा मॆ जाकर कर्मचारी काम निपटाते रहे। बैंक का काम काज नेट वर्क खराब होने से पिछले साढे तीन माह से ज्यादा समय से ठप है।नेट वर्क की खामियां काफी लम्बे अंतराल के बावजूद आज तक क्यों नही ठीक हो सका ? इसके लिए मुख्य शाखा व विभागीय उच्च अधिकारी जिम्मेदार है। वे इस मामले मे गंम्भीर नही है न तो खाताधारकों के दुख,दर्द से लेना देना है।कौन सी तकनीकी गङबङी हूई जिसका निदान साढे तीन माह मे आज तक ढूढा नही जा सका।यह लापरवाही का जीता जागता उदाहरण है।अब खाताधारक कहने लगे है काश यूबीआई शाखा पहाङपुर को बन्द कर खाता आस पास के बैंकों को स्थानांत्तरित कर देना चाहिए या तो शाखा को उस भवन से निकाल कर दूसरे भवन मे शिप्ट कर देना चाहिए।सबसे मजेदार पहलू यह है कि जिले के आला अफसरो का ध्यान इस शाखा के तरफ नही गया, न तो इन समस्याओं से उन्हे कुछ लेना देना है।
 इसके लिए कौन जिम्मेदार है ?।नेटवर्क ठीक कैसे व कब ठीक होगा इसका जबाब किसी कॆ पास नही है।आये दिन खाताधारकों व बैंककर्मियों मे तू,तू,मै,मै होती रहती हॆ।वेचारा खाताधारक नेट वर्क ठीक होने की आश लगाये पूरे दिन गुजार देता है। अंत मे निराश होकर घर लौट जाता है।छोटे,छोटे धन निकासी का कार्य बैंक मित्र करते है।जिन खाता धारको के पास आधार कार्ड नही है वह परेशान है, परन्तु मुख्यालय के विभागीय उच्च अधिकारी मूकदर्शक बने हुए है।उन्हे ग्राहकों की समस्याओं से कुछ लेना देना नही है।जिसका खामियाजा बेचारा खाताधारक भुगतने को विवश हॆ।

Leave a Reply