गाजीपुर-पुलिस ने किया गिरफ्तार, आक्रोशित सपाई बैठे सडक़ पर

0
445

गाजीपुर-आज दिनांक 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के अवसर पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी के आवाहन पर दिल्ली की सड़कों पर आंदोलनरत किसानों की मांगों के समर्थन में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ट्रैक्टर रैली निकाली । ट्रैक्टर में एक तरफ पार्टी का झंडा और एक तरफ राष्ट्रीय झंडा तिरंगा लगाकर किसान एकता जिंदाबाद,भारत माता की जय,26जनवरी जिन्दाबाद, किसान विरोधी काला कानून वापस लो के नारे लगाते हुए कार्यकर्ता किसानों की मांगों के समर्थन में हर तहसील मुख्यालय पर पहुंचे । कड़कड़ाती सर्दी में उत्साह से लबरेज समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता ट्रैक्टर लेकर सुबह ही सड़कों पर निकल पड़े । सदर विधानसभा की ट्रैक्टर रैली पार्टी कार्यालय लोहिया भवन से जिलाध्यक्ष रामधारी यादव के नेतृत्व में व जंगीपुर विधानसभा की ट्रैक्टर रैली विधायक डॉ वीरेंद्र यादव के नेतृत्व में शुरू हुई । डॉ वीरेंद्र यादव के नेतृत्व में ट्रैक्टर रैली चौकियां से शुरू हुई जिसे भुतहियां टांड़ पर जिला एवं पुलिस प्रशासन ने रोक दिया ,रोके जाने पर कार्यकर्ता वहीं धरने पर बैठ गये , फिर पुलिस ने गिरफ्तार कर सदर कोतवाली ले गये । जमानियां विधानसभा में निकली ट्रैक्टर रैली का नेतृत्व पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने किया । वह लगभग 300ट्रैक्टरों के साथ सेवराई से निकलकर भदौरा होते हुए सेवराई तहसील मुख्यालय पर पहुंचे । पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा जी भी दर्जनों ट्रैक्टर के साथ घर से निकले , लेकिन पुलिस ने ट्रैक्टर रोककर कर उन्हें और उनके साथियों को तहसील मुख्यालय जाने दिया ।
लोहिया भवन से निकली ट्रैक्टर रैली को भी पुलिस ने रायल पैलेस के पास रोक दिया , पुलिस द्वारा रोके जाने पर जिलाध्यक्ष रामधारी यादव और पुलिस प्रशासन के बीच गर्मागर्म बहस भी हुई । तमाम जद्दोजहद के बाद पुलिस ने ट्रैक्टर रोककर कार्यकर्ताओं को सदर तहसील मुख्यालय पर जाने की अनुमति दे दी । अनुमति मिलने के बाद कार्यकर्ता जुलुस की शक्ल में पार्टी कार्यालय समता भवन तक आये जहां झंडारोहण के उपरांत सभा आयोजित हुई ।
इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष रामधारी यादव ने कहा कि आज भाजपा की गलत नीतियों के चलते देश का किसान दुखी है ,खेती और फसलों पर बड़े औद्योगिक घरानों और बहुराष्ट्रीय कंपनियों की गिद्ध दृष्टि लगी हुई है , पूंजीपति नये कृषि कानूनों के माध्यम से किसानों के खेतों पर कब्जा करना चाहता है । खेती में प्रयोग होने वाले सभी कृषि यंत्र ,खाद ,बीज ,रसायन ,डीजल और बिजली महंगी है ।किसान को उत्पादन की लागत भी नहीं मिल पा रही है ।एमएसपी की अनिवार्यता और कृषि कानूनों को रद्द किए जाने की मांग केंद्र सरकार नहीं मान रही है । वह किसानों के प्रति संवेदनहीन रवैया अपनाए हुए हैं ।लगभग 60 दिन से इस देश का किसान कड़कड़ाती सर्दी में दिल्ली की सड़कों पर आंदोलनरत है लेकिन सरकार की कानों पर जूं नहीं रेंग रही है । सरकार किसानों की मांग पर विचार न कर हठधर्मी रवैया अपनाये हुए हैं । किसानों की बातों को सुनने के बजाय सरकार के मंत्री किसानों को आतंकवादी,नक्सली और कभी खालिस्तानी कहकर उन्हें अपमानित करने का काम कर रहे हैं । यह सरकार लोकतंत्र की हत्या कर रही है , सरकार और जिला प्रशासन द्वारा लाख धमकाने और नोटिस देने के बावजूद इतनी बड़ी संख्या में किसान आज सड़कों पर अपना विरोध करने उतरे हैं ,यह इस बात का धोतक न है कि सरकार से जनता बुरी तरह नाराज और आक्रोशित हैं । मोदी और योगी सरकार ने अपनी दमनकारी और तानाशाही नीतियों से ब्रिटानी हुकूमत को भी शर्मिंदा कर दिया है ।समाजवादी पार्टी किसानों के मान सम्मान की रक्षा करने के लिए हर कीमत अदा करने को तैयार है समाजवादी पार्टी किसानों के साथ पूरी तरह खड़ी है ।
डॉ वीरेंद्र यादव ने गिरफ्तारी के बाद अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा सरकार लोकतंत्र का गला घोंट रही है । संविधान का अपमान करने पर उतारू हैं भाजपा सरकार ।लोकतांत्रिक तरीके से विरोध कर रहे लोगों को रोक कर गिरफ्तार करके वह हमारे मौलिक अधिकारों का हनन कर रही है । भाजपा के कुकृत्यों के चलते मानवता आये दिन शर्मशार हो रही हैं । उन्होंने कहा कि जब तक नया कृषि कानून वापस नहीं हो जाता हम चुप बैठने वाले नहीं हैं ।
लोहिया भवन से निकलने वाली ट्रैक्टर रैली में मुख्य रूप से पूर्व विधायक विजय कुमार ,पूर्व जिला अध्यक्ष डॉक्टर नन्हकू यादव ,पूर्व जिला अध्यक्ष राजेश कुशवाहा, सदानंद यादव, जिला मीडिया प्रभारी अरुण कुमार श्रीवास्तव ,कन्हैया लाल विश्वकर्मा ,अशोक बिंद, सदर विधानसभा अध्यक्ष तहसीन अहमद ,नगर अध्यक्ष दिनेश यादव , आलोक कुमार, सदानंद यादव, आत्मा यादव,बजरंगी यादव, अमित ठाकुर, सदानंद कनौजिया, शिवशंकर यादव , राम प्रताप यादव,सिकंदर कनौजिया ,संतोष यादव, राम ज्ञान यादव ,कन्हैया यादव, चंद्रिका यादव, परशुराम बिंद,अभिनव सिंह , चन्द्रेश्वर यादव पप्पू यादव,उदय प्रताप यादव, सोनू खां,विभा पाल ,रीना यादव, नितेश खरवार, रितेश गौतम ,वंश बहादुर कुशवाहा ,नरेंद्र कुशवाहा ,अनिल कुशवाहा, प्रभुनाथ राम ,लाल बहादुर यादव ,सुखपालयादव, अशोक पांडे,बलिराम यादव, आरिफ खां,कमलेश बिंद ,आदित्य यादव ,नितिल यादव ,ओमकार यादव, गुड्डू यादव, तनवीर अहमद ,नन्हे, राहुल सिंह, आदित्य यादव, राम नगीना यादव ,अरविंद यादव, लड्डन खां ,द्वारिका यादव, हरिवंश यादव आदि उपस्थित थे ।

Leave a Reply