गाजीपुर-राजभर मतदाता बने जंग का मैदान

0
384

गाजीपुर-अभी विधानसभा का चुनाव काफी दूर वर्ष 2022 मे है लेकिन पूर्वांचल में राजभर मतदाताओं को लेकर राजनैतिक दलों में जितना घमासान मचा है उतना किसी भी समुदाय के मतदाताओं को लेकर राजनीतिक दलों में द्वंद नहीं है। बहुजन समाज पार्टी जहां प्रदेश अध्यक्ष भीम राजभर को बनाकर राजभर मतदाताओं को लुभाने का प्रयास कर रही है तो वहीं सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी मंत्री अनिल राजभर के माध्यम से पूर्वांचल के राजभर मतदाताओं पर डोरे डाल रही है।वही राजभर समाज स्वयंभू नेता सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर अपने समाज के मतदाताओं को किसी भी राजनैतिक दल के झांसे में नहीं आने की बार-बार नसीहत दे रहे हैं।दो दिन पुर्व गाजीपुर जनपद मे आये भारतीय जनता पार्टी के मंत्री अनिल राजभर ने एक मंच से बयान दिया था कि ओमप्रकाश राजभर राजग में वापसी के लिए बार-बार प्रयास कर रहे हैं।मंत्री अनिल राजभर के इस बयान से तिलमिलाए सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहां की बीजेपी में जितने पिछड़े, दलित और अल्पसंख्यक नेता हैं वह सब लोडर हैं और हम पिछड़ों ,दलितों और अल्पसंख्यकों के हित की लड़ाई लड़ते हैं। लोडर केवल नौकरी करते हैं।उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश मे 75 जनपद है,18 मंण्डल और 1700 सौ थाना है जिसमें कितने बैकवर्डो की भागीदारी है इस बात का जबाब बैकवर्ड वर्ग के सत्ताधारी मंत्री क्यों नहीं देते।

Leave a Reply