गाजीपुर-मेडिकल कालेज के अस्पताल का पोर्च ढलाई के बाद धड़ाम

0
467

गाजीपुर-शहर के गोराबाजार स्थित सीएमओ कार्यालय के सामने बन रहे 300 बेड के मेडिकल कॉलेज के अस्पताल का पोर्च ढलाई के कुछ घंटे बाद ही बुधवार की रात धराशाई हो गया ।संयोग अच्छा था कि उस समय मौके से सारे मजदूर हट गए थे अन्यथा कई जाने चली जाती। हादसा होने की खबर मिलते ही संबंधित अधिकारियों व निर्माण इकाई के इंजिनियरों मे हलचल मच गई। आनन-फानन मे सीएमओ जी.सी. मौर्या ,कोतवाली प्रभारी विमल मिश्रा, गोरा बाजार चौकी इंचार्ज अनुराग गोस्वामी सहित निर्माण इकाई के इंजीनियर भी मौके पर पहुंच गए और आवश्यक जांच पड़ताल में जुट गए। आरटीआई मैदान में बन रहे मेडिकल कॉलेज के लिए सीएमओ कार्यालय के ठीक सामने स्थित मलेरिया विभाग के भवन को तोड़कर 300 बेड का अस्पताल बन रहा है। इस 9 मंजिला बनने वाले इस भवन के निर्माण की लागत लगभग 100 करोड़ रुपए है। इसके पिलर का निर्माण आधा से अधिक हो चुका है। छत व पोर्च ढलाई के लिए कई दिन से शटरिंग की जा रही थी। बुधवार को अस्पताल के प्रवेश द्वार पर बनने वाले पोर्च की ढलाई हुई और इसके बाद सारे मजदूर वहां से चले गए। इसका सटरिंग जिला अस्पताल की ओर जाने वाले आधे रास्ते पर बनाई गई थी।अस्पताल जाने वाले वाहन काफी बचकर इसके निकल रहे थे। गार्ड के अनुसार आटो के धक्के सटरिंग गिर गयी जबकि लोगों मे चर्चा है कि निर्माण की गुणवत्ता खराब होने से यह हादसा हुआ है लेकिन निर्माण इकाई के अधिकारी इन आरोपों से को सिरे से खारिज कर रहे हैं।

Leave a Reply