गाजीपुर-समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी कड़क

0
380

गाजीपुर- जिलाधिकारी की अध्यक्षता में 37 बिंदु, क्रिटिकल गैप,मुख्यमंत्री जी की घोषणा सहित अन्य विकास कार्यों की समीक्षा बैठक राइफल क्लब सभागार में संपन्न हुई।समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने चिकित्सा, समाज कल्याण, दिव्यांग ,प्रोबेशन ,कृषि, जल निगम ,बेसिक शिक्षा, गन्ना ,विद्युत ,सहकारिता, आरईएस,बाल विकास, सिंचाई ,लोक निर्माण विभाग, सेतु निगम आदि विभागों द्वारा कराई जा रही शासन की परियोजनाओं व विभिन्न कार्यों की विस्तार पूर्वक समीक्षा की। जिलाधिकारी द्वारा नहरों में टेल तक पानी पहुंचाए जाने के संबंध में जानकारी ली तथा उन्होंने नहरों में प्रत्येक दशा में टेल तक पानी पहुंचाने का निर्देश दिया, जिससे किसानों को सिंचाई करने में किसी प्रकार की असुविधा ना हो। जनपद में कितनी सड़कें सही स्थिति में हैं और कितनी खराब स्थिति में है तथा कहां-कहां है कार्य कराया जा रहा है इसकी सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान किसान सम्मान निधि योजना में अपात्र पाए गए लोगों पर क्या कार्यवाही की गई ? अपात्रों को पात्र घोषित करने वाले अधिकारियों/ कर्मचारियों पर क्या कार्यवाही की गई ? इसकी पूरी रिपोर्ट उपलब्ध कराने का निर्देश दिया ,साथ ही कृषि अधिकारी द्वारा सोलर पंप हेतु कृषक चयन के संबंध में बताया गया कि 55 किसानों का चयन कर लिया गया है जिसमें 24 की आपूर्ति एवं 13 स्थापित कर दिए गए हैं। जिलाधिकारी ने सीवर पाइप लाइन में गुणवत्तापूर्ण मैटेरियल्स के प्रयोग करने तथा उस पर विशेष ध्यान देते हुए कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया। इस दौरान क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत भी कराई जाए।इसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान आयुष्मान योजना में सरकारी अस्पतालों में केवल 59 लाभार्थियों के इलाज कराने और प्राइवेट अस्पतालों में 7500 लोगों की इलाज कराए जाने पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया कि सरकारी अस्पताल के कार्यशैली में कहीं न कहीं गड़बड़ी है।आखिर मरीज क्यों प्राइवेट अस्पतालों की ओर रुख कर रहे हैं ? यह एक चिंता का विषय है इस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।उन्होंने सरकारी सस्ते गल्ले की रिक्त पड़ी दुकानों के आवंटन ना होने की स्थिति में नाराजगी व्यक्त करते हुए 17 फरवरी तक प्रत्येक दशा में दुकानों का आवंटन करने का निर्देश दिया।ग्राम सभाओं में अभी तक जिन तालाबों का पट्टा नहीं हुआ है ,उसका तत्काल पट्टा कराने का भी निर्देश दिया। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को आईजीआरएस पोर्टल से प्राप्त शिकायतों का ससमय निस्तारण का निर्देश देते हुए कहा कि संबंधित विभागों में आईजीआरएस पटल पर एक लिपिकीय संवर्ग के कर्मचारी की ड्यूटी लगाने को कहा। बैठक में बाल विकास पुष्टाहार, दुग्ध विकास, श्रम विभाग, खाद्य सुरक्षा, कायाकल्प योजना, अमृत योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना तथा अन्य योजनाओं की विस्तार से समीक्षा की तथा कहा कि सरकार की लाभकारी योजनाओं का लाभ प्रत्येक दशा में किसानों व आम जनमानस को उपलब्ध कराया जाए ।व्यापक प्रचार प्रसार करते हुए योजनाओं की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाई जाए। जिलाधिकारी ने जिला उद्यान अधिकारी द्वारा गलत डाटा फिडिंग पर नाराजगी व्यक्त करते हुए स्पष्टीकरण एवं मिशन प्रभारी प्रदीप श्रीवास्तव को प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश दिया।बैठक में सभी विभागों के जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply