गाजीपुर-पंचायत सचिवों के खिलाफ धरना देगें छात्र व छात्रनेता

0
549

गाजीपुर-कुछ दिनों पुर्व 8 फरवरी को जनपद के पंचायत सचिवों व ग्राम विकास अधिकारियों के संगठन द्वारा अपने सदस्यों के उत्पीड़न का आरोप लगा कर धरना-प्रदर्शन और अपने पद से सामुहिक त्यागपत्र देने की प्रशासन को धमकी देने के खिलाफ आज छात्रों का प्रतिनिधिमंडल छात्र नेता मनोज राय के नेतृत्व में मुख्यमंत्री उ०प्र०को संबोधित पत्रक जिलाधिकारी के प्रतिनिधि तहसीलदार मुकेश सिंह के माध्यम से प्रेषित किया गया । छात्र नेता मनोज राय ने कहा कि जिले के 80 प्रतिशत सचिवों द्वारा शासनादेश की धज्जियां उड़ाते हुए लूट किया गया है जिसकी जांच कर जिलाधिकारी द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराया जा रहा है, जिसे दबाने के लिए सचिवों द्वारा कार्य बहिष्कार की धमकी दी जा रही है।जिसे छात्र संघ की टीम द्वारा किसी भी दशा मे पूर्ण नहीं होने दिया जायेगा। छात्र संघ अध्यक्ष अनुज कुमार भारती ने कहा कि जिलाधिकारी महोदय द्वारा की जा रही कार्यवाही जनहित में है।यदि कार्य बहिष्कार सचिवों द्वारा किया जा रहा है तो उन्हें कार्यमुक्त किया जाय, जिले के छात्र नौजवान उनकी जगह को भरकर कार्य करने मे सक्षम है। सचिवों द्वारा जिलाधिकारी महोदय को दबाव में लाने के लिए धरना दिया गया तो छात्र संघ का भी धरना उनके कई गुने संख्या में उनके ही बगल में चलाया जायेगा।पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय ने कहा कि शौचालय,आवास, मनरेगा सब में जिले के भ्रष्ट सचिव द्वारा लूट कर आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित की गयी है, इतना ही नहीं बार-बार सत्यापन जिलाधिकारी के कराने के बाद भी आवासी सूची जिले कि सही नहीं हुई बल्कि पात्रों को ही पैसे के लिए वंचित कर दिया गया।सचिवों के फैलायें भ्रष्टाचार कि जितनी भी निन्दा कि जाय कम है। छात्रनेताओं ने अपने पत्र के माध्यम से मुख्यमंत्री महोदय से जिलाधिकारी को और अधिक पावर देकर इस मुहिम की गति तीव्र करने व आय से अधिक सम्पत्ति सहित सारे सचिवों के भ्रष्टाचार के बिन्दुओं की कडाई से जांच कर कार्रवाई कि मांग की। इस मौके पर पत्रक देने वालों में मनोज राय, शशांक राय, अभिषेक राय, शशांक, अनुज कुमार भारती, दीपक उपाध्याय,सुरेश कुमार मौर्य,शिवम राय, दीक्षित राय, राकेश चौहान, संतोष कुमार यादव, अनिल बिन्द आदि मौजूद थे।

Leave a Reply