गाजीपुर-जल निगम कर्मचारी करेंगे आमरण अनशन

0
231

गाजीपुर-अपनी तीन सूत्रीय मांगों को लेकर उत्तर प्रदेश जल निगम संघर्ष समिति के बैनर तले जल निगम कार्यालय परिसर में कर्मचारियों ने शुक्रवार को धरना प्रदर्शन किया। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि यदि हमारी मांगे पूरी नहीं होती हैं तो हम उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।उन्होंने आगे कहा कि मांह सितंबर 2000 से अब तक का बकाया 5 माह का वेतन एवं पेंशन का तत्काल भुगतान एवं प्रति माह नियमित रूप से वेतन व पेंशन का भुगतान टेजरी से कराया जाए। वर्ष 2016 से बकाया सभी पेंशनरों का देय तत्काल भुगतान किया जाए। कहा कि भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके मृतकों के आश्रित परिवार के सदस्यों की वर्ष 2018 से अवैधानिक रूप से अवरुद्ध अनुकंपा नियुक्ति तत्काल प्रभावी किया जाये।भुखमरी के कगार पर पंहुच चूके जल निगम कर्मियों एवं उनके परिवार को बचाने के लिए उक्त समस्याओं का तत्काल निदान करने की कार्यवाही की जाए अन्यथा मरता क्या न करता की स्थिति में जल निगम कर्मी एवं पेंशनभोगी व्यवस्था के अनुरूप 16 फरवरी से निम्नलिखित कार्यवाही करने के लिए बाध्य होंगे। 16 फरवरी को कोविड-19 के दिशा निर्देशों का अनुपालन करते हुए कार्यक्रमों को संचालित करने का निर्णय लिया गया। वक्ताओं ने कहा कि फरवरी 16 से 22 तक जल निगम मुख्यालय पर क्रमिक अनशन एवं प्रदर्शन तथा 23 फरवरी से आमरण अनशन किया जायेगा।स्थिति के अनुसार अगले कार्यक्रम की घोषणा की जाएगी। धरना प्रदर्शन में इंजीनियर जितेंद्र सिंह, मनोज कुमार सिंह ,भगवान दास गुप्ता, बेचन लाल शर्मा,दिनेश कुमार पांडे,विजय कुमार पांडे आदि लोग शामिल रहे।

Leave a Reply