गाजीपुर-चोरी की घटनाओं के खुलासे की जिम्मेदारी ली सीओ ने

0
202

गाजीपुर- सैदपुर नगर के एलआईसी कार्यालय के बगल में स्थित मोबाइल की दुकान में एक सप्ताह पूर्व हुई भीषण चोरी के मामले में अब तक खुलासा न होने और एक सप्ताह का अल्टीमेटम खत्म होने के बाद आखिरकार शनिवार को सैदपुर नगर वासियों का धैर्य टूट गया और उद्योग व्यापार समिति के नेतृत्व में सैकड़ों दुकानदारों ने मुख्य बाजार से पैदल मार्च करते हुए सैदपुर कोतवाली पहुंचे। वहां करीब आधे घंटे तक सैदपुर कोतवाली का घेराव करने के बाद 4 दिनो के अन्दर खुलासे का अश्वासन मिलने पर प्रदर्शन और घेराव कार्यक्रम स्थगित किया गया। सौरव मोबाइल सेंटर पर हुई लाखों की चोरी के मामले में सैदपुर पुलिस अब तक किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच पाई हैं ।इसके अलावा अब तक कई अन्य चोरियों का भी खुलासा नहीं हो पाया है। पुलिस ने मात्र एक चोरी का खुलासा किया लेकिन बाकी के मामले का खुलासा अभी तक नहीं हो सका है। सैदपुर नगर में लगातार हो रही चोरियों के विरोध में शनिवार को उद्योग व्यापार समिति के नेतृत्व में व्यापारी पंडित दीनदयाल उपाध्याय कंप्लेक्स में जुटे तथा शाम 4:30 बजे यहां से नारेबाजी करते हुए पैदल ही नगर कोतवाली पहुंचे। इस दौरान आक्रोशित व्यापारी पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद,व्यापारी एकता जिंदाबाद के नारे लगाते हुए चल रहे थे। मुख्य बाजार से होते हुए सैदपुर कोतवाली पहुंचे और वहां कोतवाली का घेराव कर दिया।इसके बाद कोतवाल रविंद्र भूषण मौर्या के सामने ही पुलिस प्रशासन हाय-हाय के नारे लगाते हुए पुलिस अधीक्षक को मौके पर बुलाने की मांग करने लगे।उद्योग व्यापार समिति के अध्यक्ष विकास बरनवाल ने कहा कि पुलिस द्वारा अब तक मामले का खुलासा न किया जाना इस तस्वीर को साफ करता है पुलिस मामले को लेकर गंभीरता से नहीं ले रही है। पीड़ित सौरभ जायसवाल का कहना था कि पुलिस पूरी तरह से सोई हुई है।जिस तरह से चोरी हुई है वह चोरी नहीं बल्कि डकैती है, क्योंकि जहां पर चोरी हुई है वहां आसपास आधा दर्जन बैंक होने के साथ-साथ कई महत्वपूर्ण केंद्र होने के चलते वह जगह बेहद संवेदनशील है।वहां से कुछ ही दूरी पर दो-दो पुलिस पिकेट है,इसके बावजूद भोर के 4:30 बजे चोरी हो जाना पुलिस की कार्यशैली पर बड़ा प्रश्न चिन्ह खड़ा करता है। कोतवाल के सामने ही उन्होंने कहा कि इस तरह से अगर पुलिसिंग होती रही तो आखिर पुलिस का क्या काम है ? अनुराग जायसवाल ने कहा कि इस तरह की घटनाएं पुलिस के साख पर बट्टा है। इसके बाद मौके पहुंचे क्षेत्राधिकारी राजीव द्विवेदी ने सभी को समझाया- बुझाया और सार्वजनिक रूप से कहा कि चोरी ना होने की गारंटी तो नहीं लेते लेकिन चोरी की घटनाओं का खुलासा करने की गारंटी लेते हैं। जिसके बाद उनके कहने पर व्यापारियों ने 4 दिन की मोहलत दी और खुलासा न होने पर बड़ा धरना करने की चेतावनी दी। इस मौके पर अविनाश, सौम्य प्रकाश बरनवाल, संजय जयसवाल, सभासद आलोक यादव, सुनील यादव, राजकुमार वर्मा, लकी खान, सुनील यादव, हिमांशु सोनी, बृजेश जैसवाल ,रोहित गुप्ता, मोहित मिश्रा, आशीष श्रीवास्तव ,अमित साहू ,आतिश लोहिया ,अशोक कायस्थकर, रमेश यादव सहित अन्य सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

by

गाजीपुर टुडे के ऐप को डाउनलोड करने हेतु नीचे दिये गये लिंक को क्लिक करें और ऐप डाउनलोड करें-GhazipurToday

Leave a Reply