Ghazipur:दुशरों को डराने वाला अतीक खुद डर रहा है

195

गाजीपुर-गुजरात की साबरमती जेल में बंद माफिया अतीक अहमद को प्रयागराज पुलिस वापस यूपी लेकर आ रही है। उसे आने वाले 28 मार्च को प्रयागराज की एमपी एमएलए कोर्ट में पेश किया जाएगा। जहां वर्ष 2006 में राजू पाल हत्याकांड के गवाह उमेश पाल का अपहरण कर उसको पीटने और धमकाने के मामले में कोर्ट सजा सुनने वाली है। प्रयागराज पुलिस पूरे लाव लश्कर के साथ रविवार को साबरमती जेल पहुंची। जेल में औपचारिकताएं पूरी करने के बाद शाम करीब 4:00 बजे अतीक को साथ लेकर पुलिस टीम प्रयागराज की तरफ चल पड़ी। बताते चलें कि उमेश पाल के अपहरण के मामले में प्रयागराज की एक अदालत 28 मार्च को सजा का ऐलान करेगी। इस मामले में अतीक अहमद, उसका भाई अशरफ और गिरोह के कई सदस्य नामजद हैं। अतीक को कड़ी सुरक्षा में गुजरात से प्रयागराज लाने के लिए दो बख्तरबंद गाड़ियों के साथ करीब 50 पुलिसकर्मी गुजरात भेजे गए थे। सुरक्षा के लिहाज से एसटीएफ की भी एक टीम साथ लगाई गई थी। कुख्यात माफिया अतीक अहमद जब साबरमती जेल से बाहर निकला तो उसका चेहरा उतरा हुआ था और वह घबराया हुआ था। अतीक अहमद बख्तरबंद गाड़ी में बैठने से घबरा रहा था उसे पुलिसकर्मियों ने जबरदस्ती धक्का देकर गाड़ी में चढ़ाया इस दौरान अतीक अहमद को मीडिया से बातचीत करने का मौका नहीं दिया गया।अतीक को पुलिस सड़क मार्ग से प्रयागराज ला रही है।इन 6 गाड़ियों का काफिला सोमवार 27 मार्च की साम तक प्रयागराज पंहुचेगा।संभवतः यह पहला मौका होगा जब कोर्ट अतीत अहमद को सजा सुना सकती है।अबतक किसी भी मामले मे अतीक को कोर्ट सजा नहीं सुना सकी है।वह हर मामले मे अपने तिकड़मों के माध्यम से बचता रहा है।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries