Ghazipur हजारों शिक्षकों के चेहरे पर आयी हरियाली

2966

गाजीपुर- परिषदीय विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों का आधार नामांकन एवं सत्यापन कार्य में उदासीनता बरतने वाले 380 परिषदीय विद्यालयों के अध्यापकों का नवंबर मांह का वेतन बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा रोक दिये जाने की चेतावनी दिया था।उन्होंने अपने आदेश मे कहा था कि सत्यापन कार्य पूरा करने के बाद ही उनको नवंबर माह का वेतन आहरित किया जाएगा। ज्ञात हो कि जिले में कुल 2269 परिषदीय विद्यालय हैं इन विद्यालयों में 3 लाख 23 हजार बच्चे प्रेरणा पोर्टल पर पंजीकृत हैं। इन बच्चों को दो-दो ड्रेस,स्वेटर ,जूता, मोजा,बैग तथा स्टेशनरी की खरीद के लिए उनके अभिभावकों के खाते में 12 रूपये की धनराशि शासन द्वारा सीधे भेजी जाती है। आधार सत्यापित नहीं होने के कारण काफी संख्या मे बच्चों के अभिभावकों के खाते में धनराशि नहीं पहुंच पा रही है।इसके चलते जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने इसे गंभीरता से लेते हुए बेसिक शिक्षा परिषद में कार्यरत हजारों शिक्षकों का नवंबर माह का वेतन रोकने की चेतावनी दिया था। बेसिक शिक्षा अधिकारी के इस निर्णय से परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों में खलबली मच गई थी। इस समस्या के उचित समाधान के लिए विशिष्ट बीटीसी वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष अनंत सिंह, दुर्गेश सिंह सहित कई शिक्षक नेताओं ने दिनांक 21 नवंबर 2022 को करण्डा ब्लॉक संसाधन केंद्र पर दिये गये ज्ञापन का संज्ञान लेते हुवे भविष्य में कार्य पूर्ण किये जाने के आश्वासन पर वेतन भुगतान का आदेश जारी कर दिया। एसोसिएशन द्वारा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को धन्यवाद ज्ञापित किया गया।साथ ही एसोसिएशन द्वारा सभी मीडियाकर्मी बंधुओं को भी हृदय से आभार जिन्होंने शिक्षकों की आवाज को बुलंद किया।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries