Ghazipur news:उमेश पाल हत्याकांड में गाजीपुर का भी नाम जूडा

1059

गाजीपुर- प्रदेश मे बहुचर्चित उमेश पाल हत्याकांड मे जनपद के बारा गांव निवासी अधिवक्ता सदाकत खान की गिरफ्तारी ने जनपद में हलचल मचा दी है।गहमर कोतवाल पवन पान्डेय से जब सदाकत के बारे में मिडिया ने जानकारी लेना चाहा तो उन्होंने बताया कि अब तक मिली जानकारी के अनुसार सदाकत एक शरीफ परिवार का लड़का है। उसके खिलाफ गहमर थाने में किसी भी प्रकार की तथा कोई भी एफआईआर दर्ज नहीं है। सदाकत के पिता शमशाद दिल्ली में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करते हैं। सदाकत ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से ला की पढ़ाई करने के बाद विश्वविद्यालय के मुस्लिम छात्रावास में रखकर हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करता है। पुलिस की पूछताछ में सदाकत ने स्वीकार किया है कि उमेश पाल के हत्या की योजना उसके ही कमरे पर बैठक कर बनी।गोली चलाने वाले दोनों शूटर गुड्डू मुस्लिम और गुलाम अक्सर उसके यहां आते जाते थे। पूछताछ में उसने यह भी बताया है कि अतीक का जेल मे बन्द भाई असरफ के यहां भी हत्या के संदर्भ कई मिटिंग हुई. हत्या के संदर्भ में हॉस्टल के कमरे में ही फाइनल प्लान बनाया गया। सदाकत को एसटीएफ ने उस समय गिरफ्तार किया है जब नेपाल भागने के लिए गोरखपुर था।गिरफ्तार के बाद भी भागने के चक्कर मे डिवाइडर से टकरा गया और इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।उसके गिरफ्तारी को लेकर लेकर पूरे गांव में चर्चा का विषय बना हुआ है।सभ्य परिवार का नौजवान अतीक अहमद जैसे माफिया से क्यों और कैसे जुड़ा लोग यह सोच सोच कर के लोग हैरान है। पुलिस सूत्रों के अनुसार सदाकत गोरखपुर से नेपाल भागने की तैयारी में था जब उसे गिरफ्तार किया गया.

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries