Ghazipur news:यहां गोबर के कंडे से चलेंगे ईट भट्ठे और होगा शवदाह

228

गाजीपुर 16 जनवरी 2023 (सू.वि) – आज दिनांक 16.01.2023 को डा० अखिलेश कुमार मिश्रा आई.ए.एस. विशेष सचिव उच्चशिक्षा उ०प्र० शासन एवं नामित नोडल अधिकारी गो-आश्रय स्थल जनपद गाजीपुर द्वारा बड़ौरा सूता मिल का निरीक्षण किया गया। जहाँ पर 258 गोवंश संरक्षित पाये गये तथा गो वंश के लिए पर्याप्त मात्रा में भूसा, चोकर एवं शुद्ध पेयजल की उपलब्धता पायी गायी। हरे चारे की बुवाई की गयी है और ठंड से बचाव हेतु शेड को चारो ओर तिरपाल से घेरा गया है।छोटे गोवंश के लिये बोरे ओढने की व्यवस्था है तथा रात्रि में अलाव जलाने की व्यवस्था पायी गयी। निरीक्षण के दौरान सभी अभिलेख का अवलोकन किया गया जो ठीक मिले। वृहद-गोसंरक्षण केन्द्र परजीपाह का भी निरीक्षण किया गया।जहा पर 368 गोवंश संरक्षित हैं, गोआश्रय स्थल पर भूसा, चोकर तथा शुद्ध पेयजल की व्यवस्था पायी गयी। ठंड से बचाव के लिए शेडों को तिरपाल से घेरा गया है तथा अलाव जलाने की भी व्यवस्था है। गोवंशों का नियमित स्वस्थ्य परीक्षण किया जा रहा है तथा समय समय पर संक्रामक बीमारीयों से बचाव हेतु टीकाकरण किया गया है, व्यवस्था ठीक है।गोआश्रय स्थल पर समूह द्वारा लगायी गयी मशीन का विधिवत हवन पूजन के बाद उदघाटन किया गया।जिससे निकले लटठों का प्रयोग शावों को जलाने एवं ईट भटठों पर बिक्री किया जायेगा।जिससे समूह के साथ गोआश्रय को भी लाभ होगा तथा गोआश्रय स्थल स्वालम्बी बनेगे। विशेष सचिव द्वारा गोवंश के गोबर से हवन सामग्री बनाने का भी सुझाव दिया गया। जिला पंचायत द्वारा संचालित गोश्रय स्थल सुकहा का भी निरीक्षण किया गया।निरीक्षण के दौरान 30 गोवंश संरक्षित पाये गये जो स्वस्थ है, तथा उनके खाने के लिए भूसा, चोकर,दाना, हराचारा तथा शुद्ध पेय जल की व्यवस्था है।सभी का टीकाकरण किया गया है तथा सभी पशु स्वस्थ है। बचाव के इंतजाम ठीक मिले। इनवंटर द्वारा प्रकाश की व्यवस्था है जिस पर विद्युत कनेक्शन कराने का निर्देश दिये गये।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries