Ghazipur news:दुस्साहसी चोरों से ग्रामीण भयभीत

153

गाजीपुर-बेखौफ चैरों के आतंक से जनपद के ग्रामीण इलाके काफी भयभीत है।आयेदिन किसी न किसी थानाक्षेत्र के ग्रामीण इलाके से चोरी घटना मिडिया के माध्यम जनसामान्य को पढने हेतू मिल ही जाती है।ताजा मामला करंडा थाना के खिजिरपुर पुलिसचौकी क्षेत्र अंतर्गत सबुआ गांव का है। बैखौफ चैरों ने मंगलवार की रात दो घरों को खंगाला। एक व्यक्ति के मकान के ऊपरी मंजिल के सीढ़ी के दरवाजा का ताला तोड़ घर की अलमारी में रखे सोने का आभूषण झुमका एक जोड़ी ,तीन पायल चांदी का,तीन सोने अंगूठी सहित 139000 नगदी चुरा लिये। बुद्धवार की सुबह 5:30 बजे जब गृह स्वामी ने देखा कि दरवाजा खुला है और अलमारी में रखा सामान बाहर बिखरा पड़ा है।
तो वही दूसरे व्यक्ति के घर मे भी आलमारी टूटी थी और सामान कमरे मे बिखरे था।परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई।
प्राप्त जानकारी के अनुसार करंडा थानाक्षेत्र के खिजिरपुर पुलिसचौकी अंतर्गत सबुआ गांव निवासी गजेंद्र सिंह उर्फ गुंजन पुत्र राम नगीना सिंह अपने परिजनों के साथ मकान के ऊपरी मंजिल पर भोजन कर सोने चले गए। बुधवार की सुबह 5 बजे उनकी पत्नी नवरात्रि में देवी पूजा के लिए जल रहे अखंड ज्योति के दीपक मे तेल डालने के लिए उठीं तो देखा कि दूसरे रूम का दरवाजा खुला हुआ है और कमरे मे रखी अलमारी का सामना बाहर बिखरा पड़ा हैं। जैसे ही यह जानकारी परिजनों सहित आसपास के लोगों को हुई बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंच गए, परिजनों ने देखा की अलमारी में रखी तीन सोने अंगूठी,एक जोड़ी सोने का झुमका,तीन जोड़ी पायल सहित नगदी रू०139000/सहित अन्य किमती सामान गायब है।परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके पर छानबीन की। वही इनके घर से चंद कदम दूर हरिश्चंद्र सिंह पुत्र दुधनाथ सिंह के घर के मुख्य दरवाजे से घुसे चोर घर में रखे रमेश सिंह पुत्र हरिश्चंद्र सिंह की आलमारी तोड़कर सामान तितर बितर कर दिये। परिजनों ने बताया कि आलमारी में कोई बहुमूल्य सामान और पैसा नहीं था, इसलिए चोरों के हाथ कुछ खास नहीं लगा है। सबुआं में चोरी की घटना पहली नहीं है अक्सर चोरी की घटनायें होती रहती हैं। चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले चोर इतने निडर हैं कि ठंढ के समय बारी बारी से तीन- तीन तालाबों की मछली ही मार ले गये। चोर इतने शातिर हैं कि तालाबों की रखवाली के लिए रखे एक किसान के अच्छी नस्ल के चार पालतू कुत्तों को पहले जहर देकर मार दिया उसके एक दो दिन बाद निडर होकर तालाब की मछली मार ले गये।
कल मंगलवार हुई चोरी के मामले में परिजनों ने थाने में तहरीर देकर चोरी में संलिप्त अज्ञात चोरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इस संबंध में करंडा थानाध्यक्ष संपूर्णानंद राय ने बताया कि मामला संज्ञान में है।पुलिस छानबीन में जुटी हुई है और चोर जल्द ही पुलिस के गिरफ्त में होंगे।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries