Ghazipur news:बेहतरीन काम करने के लिए सम्मानित हुए एंबुलेंस कर्मी

121

गाजीपुर-उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा आमजन को निशुल्क स्वास्थ्य सुविधा देने का लगातार दावा किया जाता है। इसी के क्रम में 102 एंबुलेंस जो आधी आबादी के स्वास्थ्य सुविधा के लिए उनके घर से अस्पताल और अस्पताल से उनके घरों तक पहुंचाने का काम पायलट और ईमटी के माध्यम से किया जाता है। जिसके चलते जनपद में 102 एंबुलेंस के पायलट और ईमटी के क्विक रिस्पांस के चलते कई गर्भवती का सफल डिलेवरी एंबुलेंस के अंदर भी कराया गया। बहुत सारे गर्भवती का डिलीवरी पास के स्वास्थ्य केंद्र और जिला महिला अस्पताल में भी कराया गया। सब के कार्यों को देखते हुए जनपद में 102 एंबुलेंस में बेहतर कार्य करने वाले ईमटी और पायलट व अन्य को मंडल प्रभारी सुमित कुमार दुबे और जिला प्रभारी दीपक राय और प्रोजेक्ट मैनेजर संदीप चौबे के द्वारा बुधवार को जिला अस्पताल स्थित कार्यालय में सम्मानित किया गया।

जिला प्रभारी दीपक राय ने बताया कि जनपद में मौजूदा समय में 108 एंबुलेंस की संख्या 42 और 102 एंबुलेंस की संख्या 37 है। इन्हीं एंबुलेंस के माध्यम से कॉल सेंटर पर कॉल करने के बाद हेल्प डेस्क पर कार्यरत कर्मी की सटीक सूचना पर क्विक रिस्पांस करते हुए ईमटी और पायलट बताए गए लोकेशन पर पहुंचते हैं। वहां से गर्भवती व अन्य को रेस्क्यू करते हुए पास के अस्पताल या जिला अस्पताल तक पहुंचाते हैं। ऐसे ही 102 एंबुलेंस तीन कर्मी को मंडल प्रभारी सुमित कुमार दुबे के द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वालों में हेल्प डेस्क इंचार्ज बंदना, पायलट प्रमोद और पायलट मनोज कुमार मौर्य शामिल रहे।

उन्होंने बताया कि इस तरह क सम्मान करने के पीछे मुख्य उद्देश्य शासन के द्वारा दी गई सुविधा का शत प्रतिशत लोगों को लाभ मिले। साथ ही कर्मियों के कार्यों में और गुणवत्ता आए जिससे सीख ले कर अन्य पायलट ईमटी व अन्य कर्मी बेहतर करने का कार्य करें।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries