Ghazipur news:भड़के विधायक जी और गला फाड़-फाड़ कर चिल्लाये

969

गाजीपुर-ऐसी घटनाएं सोशल मीडिया ट्विटर पर अक्सर देखने को मिल जाया करती हैं। लेकिन 29 मार्च 2023 को मातृभूमि जखनिया के व्हाट्सएप ग्रुप में मुझे गाजीपुर जनपद के विधानसभा जखनिया मे देखने को मिली।जब कुछ सेकंड के वायरल विडिओ मे क्षेत्रीय विधायक बेदी राम जी एक सड़क नवनिर्मित सडक़ को अपने जूतों से मसल रहे हैं और सड़क पर पेंट/पीच की गयी गिट्टियां सड़क छोड़कर उखड जा रही हैं।यह देख कर विधायक जी उस सड़क का निर्माण कार्य कराने वाले ठेकेदारी और जेई,एई पर जमकर भड़के और गला फाड़-फाड़ कर कह रहे है कहां गया, कहां गया पता नहीं विधायक जी ठेकेदार को कह रहे है या जेई,एई को कह रहे हैं। सोशल मीडिया पर कुछ सेकंड का वीडियो वायरल होने के बाद उस ग्रुप के तमाम सम्मानित सदस्यों ने तरह-तरह के कमेंट करना शुरू कर दिए। किसी मित्र ने कमेंट किया की समय से सुविधा शुल्क नहीं पहुंचा होगा इसलिए विधायक जी ऐसा तेवर दिखा रहे हैं। एक दूसरे ग्रुप के मेंबर ने कहा/कमेट किया कि यह सिर्फ दिखावा मात्र है।यदि विधायक जी इमानदारी से क्षेत्र की सेवा करना चाहते हैं तो ठेकेदार पर एफआईआर करावें और उस ब्लैक लिस्टेड ठेकेदार से फिर से उसी बजट मे काम करावें।तीसरे सम्मानित सदस्य ने कमेंट किया कि हमारे विधानसभा में शिलान्यास का कोई फोटो/विडिओ आज तक किसी विधायक ने साझा नहीं किया। इसी मध्य क्षेत्र के एक सम्मानित पत्रकार ने आधी अधूरी खबर लगा दिया।आधी-अधूरी खबर से मेरा मतलब यह है कि आप के क्षेत्र का मामला है। क्षेत्रिय विधायक का सम्पर्क नम्बर पत्रकार महोदय के पास अवश्य रहा होगा। आप विधायक जी से ही सम्पर्क मार्ग के बारे जानकारी लेकर खबर लगाते।पत्रकार महोदय की खबर उसी व्हाट्सएप ग्रुप मे आने के बाद ग्रुप के सदस्य उन्हीं से बार-बार यह सवाल करने लगे कि किस सड़क का मामला है।पत्रकार महोदय को खुद उस समय तक सम्पर्क मार्ग का पता नहीं था।इसके बाद गलती से एक टिप्पणी उसी ग्रुप मे मैंने पत्रकार महोदय के प्रति कर दिया पत्रकार महोदय और उनके समर्थक मुझसे काफी नाराज हुए हैं।मै राजकमल राय जो कभी दैनिक जागरण गाजीपुर के चीफ हुआ करते थे उनको अपना आदर्श मानता हुँ।उनका कहना है या उनकी सीख है कि तुम्हारी खबर भले ही बाद मे लगे लेकिन सभी तथ्यों से परिपूर्ण हो।खैर यह सब तो चलता ही रहता है वैसे मेरी भी खबर मे उस संपर्क मार्ग का नाम नहीं है इसके लिए पाठकों से क्षमाप्रार्थी हुँ। क्योंकि मेरे पास माननीय विधायक जी का कोई संपर्क सूत्र नहीं है इसलिए मैं नहीं दे पा रहा हूं। एक खबर सुबह पता चली है कि जखनियां के तमाम पत्रकार विधायक जी से सड़क की लोकेशन पता करने के लिए कल साम से ही फोन कर रहे है लेकिन माननीय का फोन नहीं उठ रहा है।लेकिन वास्तविकता यही है कि यह बहुत बड़ी खबर है इससे पूर्व की सरकारों में तो संपर्क मार्ग निर्माण के नाम पर पूरा-का बजट उतार लिया जाता था और सड़क पर कोई कार्य नहीं होता था। लेकिन वर्तमान भारतीय जनता पार्टी की सरकार मे ऐसे ठेकेदार और जूनियर इंजीनियर इंजीनियर के खिलाफ निश्चित तौर से कठोर कार्यवाही होनी चाहिए।आज 30 मार्च की सुबह जब ट्विटर देख रहा था तो विधायक जी ट्विटर पर विडियों अपलोड कर अपने इमानदारी की वाहवाही लूट रहे है।उसी ठेकेदार से उसी टेंडर के पैसे से सड़क का पुनर्निर्माण भी होना चाहिए। यदि मेरे किसी शब्द से किसी मित्र की भावना को ठेस पहुंची हो तो मैं क्षमा प्रार्थी हूं, किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना मेरा उद्देश्य नहीं है।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries